मुख्यमंत्री के काफिले पर हमला, बचाने में थानेदार समेत कई घायल, डीआईजी और एसएसपी मौके पर पहुंचे..

मुख्यमंत्री के काफिले पर हमला, बचाने में थानेदार समेत कई घायल, डीआईजी और एसएसपी मौके पर पहुंचे..

राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय

मुख्यमंत्री के काफिले पर हमला, बचाने में थानेदार समेत कई घायल, डीआईजी और एसएसपी मौके पर पहुंचे..

उग्र हुए आमजनों ने मुख्यमंत्री के काफिले पर हमला कर दिया। मुख्यमंत्री को बचाने के लिए साथ चल रहे थानेदार समेत पुलिसकर्मी सामने आ गये। काफी मशक्कत के बाद मुख्यमंत्री काफिले को भीड से अलग कर निवास पहुंचे।

रांची। जानकारी के अनुसार प्रदर्शन कर रहे लोगों ने मुख्यमंत्री के काफिले को घेरकर रोक लिया और उग्र हुए लोगों ने उन पर हेलमेट, डंडे तथा अन्य सामान फेकने लगे। मुख्यमंत्री की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी ने किसी तरह सीएम की गाडी को भीड से अलग किया और झाडखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को उनके निवास लेकर पहुंचे।

साथ ही मामले की जानकारी होते ही रांची डीआईजी और एसएसपी मौके पर पहुंचे गये। वही लोगों को समझाने के बाद भीड को भी तिरत-वितर कर दिया गया। हमले में थानेदारा भी जख्मी हो गए। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं थानेदार के अलावा भी कई जवानों को चोट आई है।

Fiat Chrysler भारतीय यूनिट में करेगा $ 250 मिलियन का निवेश

लोगों के उग्र होकर प्रदर्शन करने के संबंध में मिली जानकारी के अनुसार विगत दिनों एक युवती सिर कटा शव मिला था। पुलिस न तो उस शव की पहचान हो सकी और हत्यारों को गिरफतार करने में पुलिस नाकम है। ऐसे में हत्यारों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की मांग करते हुए स्थानीय लोग उग्र हो गये थे।

विरोध प्रदर्शन कर रहे लेागों का कहना था कि राजधानी में अपराध की घटनाएं बढ़ गई हैं। इसके बाद भी पुलिस लोगों की सुरक्षा के लिए कुछ नहीं कर रही है।

मुख्यमंत्री के काफिले पर हमला, बचाने में थानेदार समेत कई घायल, डीआईजी और एसएसपी मौके पर पहुंचे..

वही पुलिस ने लेागों को समझाते हुए कहा कि उक्त युवती के शव की पहचान करने ओरमांझी पुलिस पूरा प्रयास कर रही है। घटना स्थल पर एफएसएल और पुलिस की टीम मौके पर पहुंच कर जांच में जुटी है। पुलिस सुराग जुटाने मे ंलगी है जिससे उस युवती की पहचान हो सके।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज, कॉल डिटेल निकालकर पुलिस अपराधियों के सत्यापन का प्रयास कर रही है। वहीं सभी थानेदारों से मिसिंग युवतियों की रिपोर्ट ली गई लेकिन युवती की पहचान नहीं हो पाई। पुलिस की इस तरह की दलील सुनने के बाद लेाग सांत हुए।

PM Modi ने किया राष्ट्रीय मेट्रोलॉजी कॉन्क्लेव 2021 का उद्घाटन

Work From Home : भारत सरकार ला रही है नए नियम, ये फायदे होंगे…

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *