rewa itwari nagpur train

ट्रेन में सफर के दौरान अगर तबियत बिगड़ी तो घबराएं नही, रेलवे ने की है व्यवस्था, जाने कैसे होगा बर्थ पर इलाज..

राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय

ट्रेन में सफर के दौरान अगर तबियत बिगड़ी तो घबराएं नही, रेलवे ने की है व्यवस्था, जाने कैसे होगा बर्थ पर इलाज..

नई दिल्ली। कभी-कभी बिमारी का अंदेशा होेने के बाद भी मजबूरी में सफर करना होता है। स्वास्थ्य की चिंता सफर के दौरान बनी रहती है। वही अगर सफर में सायाने या बुजुर्ग लोग साथ में हो तो यह चिंता दोगुनी हो जाती है। रेवले के सफर में तेा सबसे बडी समस्या बीमारी के दौरान होती है। लेकिन अब परेशान होने की आवश्यकता नही है। रेलवे ने इसका भी इंतजाम कर दिया है।

अब अगर यात्रा के दौरान आपकी तबियत खराब होती है तो परेशान होने की आवश्यकता नही है। बस आपको एक फोन करना है और अगले स्टेशन में आपके बर्थ पर डाक्टर मौजूद होगा। वही अगर तबियत ज्यादा खराब हो रही है और आपने दवई नही ली हे तो आपको टीटी को ढूढकर उन्हे अपनी समस्या बतनी है और वह आपको फस्टऐड तक पहुंचा देगें। वही वह डाक्टर को भी सूचित करेगें।

ट्रेन में सफर के दौरान अगर तबियत बिगड़ी तो घबराएं नही, रेलवे ने की है व्यवस्था, जाने कैसे होगा बर्थ पर इलाज..

भारत मैन्युफैक्चरिंग बेस के विस्तार के साथ दोहरे अंकों में विकास कर सकता है – Anurag Thakur

जानकारी के अनुसार बीमारी की अवस्था में यात्री को टीटी के अलावा रेलवे कंडक्टर को सूचित किया जा सकता है इसके लिए यात्री 139 में करे। यह काल रेलवे कंडक्टर कंट्रोल रूम से कनेक्ट होता है। वही तबीयत बिगड़ने पर रेलवे के आधिकारिक ट्वीटर हैंडल का भी उपयोग किया जा सकता है। हालांकि इस दौरान पीएनआर, सीट नंबर आदि की जानकारी देनी होती हैं। रेलवे नियमों के अनुसार अब यात्रा के दौरान बीमार होने पर टीटीई को आपकी मदद करनी ही होगी।

कई शहरों में चलेगी हाई स्पीड ट्रेन, अयोध्या, जम्मू जैसे शहर जुड़ेगे Bullet Train कॉरिडोर से

बंगाल में शाह : तृणमूल कांग्रेस के शुभेंदु अधिकारी भाजपा में हुए शामिल

Farooq Abdullah की सम्पत्तियां जप्त, NC ने बताया राजनैतिक प्रतिशोध

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *