किसान बिल का विरोध, दिल्ली पहुंच रहे किसानों को रोकने सरकार व प्रशासन ने लगाई ताकत

किसान बिल का विरोध, दिल्ली पहुंच रहे किसानों को रोकने सरकार व प्रशासन ने लगाई ताकत

राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय

नई दिल्ली। नये कृषि कानून के विरोध में देश भर के किसान सहित पंजाब तथा हरियाणा के किसान आंदोलन कर रहे हैं। किसान संगठनों द्वार दिये गये दिल्ली चलो का नारा से प्रेरित होकर किसान दिल्ली पहुंचने की जुगत ढूढ रहे हैं लेकिन सरकार किसी भी सूरत में उन्हे दिल्ली नही पहुचने देना चाहती।

वही 26 तथा 27 नवम्बर को दिल्ली में सामूहिक प्रदर्शन करना निश्चित किया गया है। प्रदर्शन के पहले दिन पुलिस प्रशासन ने बल का प्रयोग करते हुए किसानो पर पानी की बौछार तथा बैरीकेट्स लगाकर रोकने में लगी है। दिल्ली के मुख्यमंत्री तथा कांग्रेस पार्टी किसानो के समर्थन में है।

पुलिस प्रशासन कर रही बल प्रयोग

किसानों को दिल्ली में घुसने से रोकने के लिए हरियाणा बार्डर को पूरी तरह सील कर दिया गया है। सडकों पर धान से भरे ट्रक खडे कर जाम लगा दिया गया है। अंबाला के शम्भू बार्डर पर भी किसानों को रोकने के लिए बैरीकेट्स लगाए गये हैं। किसानो ने बैरीकेट्स को नदी मे फेंक दिया और जबर घुसने का प्रयास करने लगे जिस पर पुलिस प्रशासन को बल प्रयोग करना पडा।

पानी की बौछार व आंसू गैस का किया प्रयोग

अंबाला के शम्भू बार्डर पर किसानों की बढती संख्या को देखते हुए उन्हे तितर वितर करने के लिए पुलिस प्रशासन को आंसू गैस के गोले छोडने पडे। तो वहीं इस भारी ठंड में किसानो पर पानी की तेज बौछार छोडा गया। बताया गया कि इस दौरान किसान नेताओं और पुलिस के आला अधिकारियों के बीच काफी नोकझोक भी हुई।

किसानों ने किया पथराव

दिल्ली न जाने देेने और पुलिस द्वारा बल प्रयोग करने से नाराज किसानों ने जहां पुल पर लगे बेरीकेट्स को नदी मे फेक दिया वही पुलिस पर पथराव करने लगे। जानकारी के अनुसार पुलिस द्वारा की गई ठंडे पानी की बौछार से किसान बुरी तरह भीग गये।

कांग्रेसियों ने किया ट्वीट

प्रियंका गांधी ने ट््वीट कर किसानो का समर्थन करते हुए कहा कि देश की सरकार समर्थन मूल्य का हक किसानों से छीन रही है। उन पर ठंड होने के बाद भी पानी डाला जा रहा है जो गलत है। सरकार को किसानो की मांग सुननी चाहिए। वही कांग्रेस के राष्टीय महासचिव रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि किसानों पर पानी छोडना मोदी और खट्टर सरकार की तानाशाही प्रदर्शित कर रही है।

महंगी आलू के कारण गरीबों का बजट गड़बड़ाया, चिंता में आमजन, कैसे होगा गुजारा

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *