चीन के समर्थन से कश्मीर में आर्टिकल 370 की बहाली होगी, फारूक अब्दुल्ला का विवादित बयान

‘चीन के समर्थन से कश्मीर में आर्टिकल 370 की बहाली होगी’, फारूक अब्दुल्ला का विवादित बयान

राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय

नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने बड़ा एवं विवादित बयान दिया है. फारूक अब्दुल्ला ने कश्मीर में आर्टिकल 370 के बहाली की बात कही है. पूर्व मुख्यमंत्री ने लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर चीनी आक्रामकता के लिए भारत सरकार के आर्टिकल 370 को रद्द करने के फैसले को जिम्मेदार ठहराया है.

‘इंडिया टुडे से बात करते हुए फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि चीन ने कभी भी अनुच्छेद 370 को रद्द करने के फैसले को कभी स्वीकार नहीं किया. अब्दुल्ला ने उम्मीद जताई कि इसे चीन के समर्थन से बहाल किया जाएगा.’

चीन के समर्थन से कश्मीर में धारा 370 की बहाली होगी, फारूक अब्दुल्ला का विवादित बयान
Article 370 J&K

अब्दुल्ला ने कहा कि ‘वे (चीन) लद्दाख में LAC पर जो कुछ भी कर रहे हैं, वह सब कश्मीर से अनुच्छेद 370 निरस्त करने के लिए है. उन्होंने इस फैसले को कभी स्वीकार नहीं किया. उनके समर्थन से कश्मीर में अनुच्छेद 370 की बहाली की जाएगी.’

Indian Railway : Express Trains एवं लंबी दूरी की मेल में नहीं होंगे Sleeper Coach, पढ़ें रेलवे का पूरा प्लान

उन्होंने कहा कि मैंने कभी चीनी राष्ट्रपति को आमंत्रित नहीं किया, पीएम मोदी ने न केवल उन्हें आमंत्रित किया, बल्कि उनके साथ झूला सवारी भी की. वे उन्हें चेन्नई ले गए और उनके साथ भोजन किया.

जम्मू और कश्मीर पर केंद्र के फैसले पर बोलते हुए फारूक अब्दुल्ला ने आगे कहा कि सरकार ने 5 अगस्त 2019 को जो किया वह अस्वीकार्य था. नेशनल कॉन्फेंस के नेता ने कहा कि उन्हें संसद में जम्मू-कश्मीर की समस्याओं पर बोलने की भी अनुमति नहीं दी गई.

LAC पर जारी है तनाव

भारत सरकार ने पिछले साल जम्मू-कश्मीर पर विशेष दर्जा देने वाले आर्टिकल 370 को निरस्त कर दिया. इसके साथ ही लद्दाख को जम्मू-कश्मीर से अलग कर दिया. जम्मू-कश्मीर और लद्दाख दोनों को केंद्र शासित प्रदेश घोषित किया गया. वर्तमान में लद्दाख में भारत और चीन के बीच सीमा पर तनावपूर्ण स्थिति है. दोनों पक्षों ने सीमा विवाद को हल करने के लिए कई उच्च-स्तरीय राजनयिक और सैन्य वार्ता आयोजित की हैं.

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like करें

Tagged

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *