16 साल के बच्चे ने हैक किया Apple का सर्वर, हैरान कर देगी वजह

राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय

ऐपल के सिक्योरिटी सिस्टम में सेंध लगाने के लिए एक ऑस्ट्रेलियाई बच्चे को दोषी पाया गया है, जिसका कहना है कि वह टेक दिग्गज ऐपल का बहुत बड़ा फैन है और उसे उम्मीद है कि एक दिन वह इस कंपनी में काम करेगा.

ये जानकारी मीडिया रिपोर्ट्स से मिली है. ऐपल ने इस घटना की जानकारी फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (FBI) को दी थी, उसके बाद से 16 वर्षीय किशोर पर आपराधिक मुकदमा चलाया जा रहा है.

‘द एज’ प्रकाशित रिपोर्ट में वकील के हवाले से कहा गया, ‘बच्चा, कानूनी कारणों से जिसका नाम नहीं लिया जा सकता, उसने पिछले एक साल में अपने उपनगरीय घर से ऐपल के मेनफ्रेम में कई मौकों पर घुसपैठ की, क्योंकि वह कंपनी का बहुत बड़ा फैन था.’

ये बच्चा जो एक प्राइवेट स्कूल का छात्र है और उसने कथित रूप से ऐपल के मेनफ्रेम से उड़ाई गई जानकारी को ‘हैकी हैक हैक’ नाम के फोल्डर में सेव किया था. इस बच्चे ने ऐपल के सर्वर से डेटा चोरी करने के दौरान अपनी पहचान छिपाकर रखी. साथ ही डेटा और अन्य कई पासवर्ड्स हैक करने के बाद बच्चे ने सभी स्क्रीनशॉट्स और जानकारी वॉट्सऐप के जरिए दोस्तों के साथ शेयर की.

ये किशोर ऑथोराइज्ड कीस को एक्सेस करने में और कस्टमर अकाउंट देखने में सक्षम था और इसने पकड़े जाने से पहले तक सिक्योर फाइल्स के 90GB तक डेटा को डाउनलोड कर लिया था.

हालांकि अभी तक ये साफ नहीं हुआ कि उस बच्चे ने ग्राहकों का किस तरह का डेटा चोरी किया, लेकिन कंपनी का दावा है कि ग्राहकों का पर्सनल डेटा सुरक्षित है. चूंकि बच्चा नाबालिग है, इसलिए उसके नाम को उजागर नहीं किया गया है. बच्चे को सजा 20 सितंबर को सुनाई जाएगी.