दूसरे राज्यों में फंसे लोगों के लिए राहत भरी खबर, देश भर के हर जिले में चलेंगी 1000 से अधिक Shramik Special Train

राहत भरी खबर, देश के हर जिले में चलेंगी 1000 से अधिक Shramik Special Train

Delhi छत्तीसगढ़ मध्यप्रदेश राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय

नई दिल्ली। दूसरे प्रदेशों या जिलों में फंसे लोगों के लिए एक राहत भरी खबर है। केंद्र और रेलवे ने मिलकर अब देश के हर जिलों के लिए Shramik Special Train चलाने का निर्णय लिया है। 

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि अब किसी भी जिले का कलेक्टर श्रमिकों की लिस्ट लेकर रेलवे से Shramik Special Train चलाने की मांग कर सकता है। इस तरह सभी जिला कलेक्टरों को अपने जिले से दूसरे स्थानों पर जाना चाह रहे प्रवासी मजदूरों की लिस्ट बनाने को भी कहा गया है। बता दें भारतीय रेल को पिछले 15 दिन में प्रवासी कामगारों को घर पहुंचाने के लिए राज्यों से 1,000 से ज्यादा ट्रेनों के परिचालन की अनुमति मिली है।

Gratuity नियमों में बदलाव करने जा रही है सरकार, करोड़ों प्राइवेट और सरकारी कर्मचारियों को मिलेगा फायदा

गुजरात से 350 ट्रेनों से भेजे गए 5 लाख कामगार

गुजरात से खबर है कि लॉकडाउन के दौरान प्रदेश से करीब 5 लाख मजदूरों को उनके गृह प्रदेशों तक भेजा जा चुका है। शुक्रवार देर रात तक 41 ट्रेन अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा व अन्य शहरों से 41 हजार कामगारों को लेकर रवाना हुईं। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के सचिव अश्वनी कुमार ने यह जानकारी देते हुए बताया कि लॉकडाउन के दौरान अपने राज्य जाने के इच्छुक कामगारो और मजदूरों को Shramik special trains से भेजा जा रहा है।

लॉकडाउन दो हफ्ते के लिए और बढ़ाया जा सकता है, इन्हे मिल सकती है इजाजत

गुजरात से अब तक 350 श्रमिक स्पेशल ट्रेन उत्तर प्रदेश, बिहार, ओडिशा, छत्तीसगढ़, झारखंड, मध्य प्रदेश और पूर्वोत्तर के लिए रवाना हुईं। इन ट्रेनों में 4 लाख 70 हजार से अधिक कामगारों को उनके प्रदेश भेजा गया। सबसे अधिक ट्रेन उत्तर प्रदेश और बिहार के लिए रवाना हुईं। गुजरात से कई कामगारों को बसों से भी भेजा गया है।

Indian railways ने अभी तक 932 ट्रेनों के जरिये 12 लाख से ज्यादा प्रवासियों को उनके घर पहुंचाया है। Shramik special trains तब और भी अहम हो जाती हैं तब रेलवे यह ऐलान कर चुका है कि रेग्युलर ट्रेनें 30 जून तक रद्द रहेंगी।

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:  

FacebookTwitterWhatsAppTelegramGoogle NewsInstagram

Facebook Comments