Big news SCHOOL COLLEGE can remain closed for so many days

बड़ी खबर : अभी इतने दिन तक बंद रह सकते है SCHOOL/COLLEGE

राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय

बड़ी खबर : अभी इतने दिन तक बंद रह सकते है SCHOOL/COLLEGE

CoronaVirus Update: कोरोना वायरस महामारी और देशव्यापी लॉकडाउन के बीच शिक्षआ जगत के लिए बड़ी खबर है कि लॉकडाउन हो या ना हो देशभर के SCHOOL-COLLEGE, शिक्षण संस्थाएं 15 मई 2020 तक के लिए बंद हो सकते हैं। बता दें कि कोविड 19 पर हुई बैठक में मंत्रियों के समूह (GoM) ने ये सिफारिश की है। हालांकि अब अंतिम फैसला केंद्र सरकार को करना है।

MP में विद्युत उपभोक्ताओं को सौगात, अब Whatsapp नंबर पर मिलेगा बिल

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक ग्रुप ऑफ मिनिस्टर (GoM) ने सिफारिश की है कि स्कूलों और कॉलेजों का बंद 15 मई तक बढ़ा दिया जाए। इसके बाद गर्मियों की छुट्टियों शुरू हो जाएंगी। एक तरह से गर्मियों की छुट्टियों को मिलाकर SCHOOL-COLLEGE जून के अंत तक बंद रह सकते हैं। केंद्र सरकार इस सिफारिश पर गंभीरता से विचार कर रही है। इसके अलावा GoM ने लोगों की सहभागिता वाली सभी तरह की धार्मिक गतिविधियों पर भी 15 मई तक रोक लगाने की सिफारिश की है। कुल मिलाकर GoM की इन सिफारिशों का मतलब है कि लॉकडाउन 14 अप्रैल 2020 के बाद लागू रहे या ना रहे SCHOOL-COLLEGE, शैक्षणिक संस्थान और भीड़-भाड़ वाली धार्मिक गतिविधियों वाली जगहें लॉकडाउन की स्थिति की तरह ही बंद रहेंगी।

रीवा: Full Body Sanitizing Machine में Sanitizer की जगह Bleaching Powder, खुजली से तड़पते रहें कर्मचारी

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता वाले GoM ने पोस्ट लॉकडाउन की स्थिति को लेकर विचार किया। बैठक में गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण सहित अन्य मंत्रीगण शामिल हुए। वर्तमान में जिस तरह कोरोना का प्रकोप पूरे देश में लगतार बढ़ रहा है, उसे देखते हुए यह तय किया गया है कि SCHOOL-COLLEGE, धार्मिक केंद्र, शॉपिंग मॉल सहित भीड़ और सोशल गेदरिंग वाले स्थानों को 14 अप्रैल 2020 के बाद भी शुरू नहीं किया जा सकेगा।

इन सभी जगहों को सामान्य गतिविधियां शुरू करने की अनुमति अभी कम से कम 4 सप्ताह यानि एक महीने तक नहीं दी जा सकती है। ऐसे में ये सारी जगह कम से कम 15 मई से पहले खुलना संभव नहीं है। पाबंदी में धार्मिक आयोजन को इसलिए शामिल किया गया क्योंकि पिछले महीने निजामुद्दीन मरकज में तब्लीगी जमात के सम्मेलन में देश-विदेश के काफी लोग शामिल हुए थे और इनमें से कई कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए।

बता दें कि GoM का गठन देश में कोरोना वायरस के कारण देश की स्थिति की समीक्षा करने और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को सुझाव देने के लिए किया गया है ।

Facebook Comments