BIG NEWS: MP में कहाँ ढील और कहां किया जाएगा सील, पूरा प्लान तैयार

LOCKDOWN हटने के बाद भी इन 7 राज्यों में रहेगा प्रतिबन्ध, पढ़िए

राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय

LOCKDOWN हटने के बाद भी इन 7 राज्यों में रहेगा प्रतिबन्ध, पढ़िए

7 राज्यों में जहां कोरोना वायरस (CORONAVIRUS) के 1,367 मामले सामने आए हैं। इन राज्यों ने संकेत दिए हैं कि 21 दिनों की LOCKDOWN अवधि खत्म होने के बाद भी उनके यहां प्रतिबंध जारी रहेंगे। यह देशभर में सक्रिय 4,421 मामलों में से लगभग एक-तिहाई मामले हैं। बता दें कि 14 अप्रैल को पूर्ण देशबंदी की अवधि समाप्त हो रही है।

इन 3 शहरो में नहीं होगा LOCKDOWN ख़त्म, CM SHIVRAJ ने दिए संकेत

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव का कहना है कि वह अपने राज्य में LOCKDOWN की अवधि बढ़ाने के पक्ष में हैं। महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, असम, छत्तीसगढ़ और झारखंड ने संकेत दिया है कि वह अगले मंगलवार को पूरी तरह से लागू प्रतिबंध को हटाने के पक्ष में नहीं हैं।

असम में 26 मामले सामने आए हैं। वह LOCKDOWN के बाद राज्य में प्रवेश करने की इच्छा रखने वालों को विनियमित करने के लिए एक पंजीकरण प्रणाली की योजना बना रहा है। महाराष्ट्र में अब तक सबसे ज्यादा 748 मामले सामने आए हैं। वह मुंबई और पुणे के साथ-साथ हॉटस्पॉट क्षेत्रों में LOCKDOWN बढ़ा सकता है।

MP मंत्रिमंडल गठन: 24 से 26 मंत्री बनाए जायेगे, दिक्कत इसलिए क्योंकि..

उत्तर प्रदेश के अधिकारियों का कहना है कि उनके यहां संक्रमितों की संख्या 305 है। जिसमें से 105 लोग वे हैं जो दिल्ली में तबलीगी जमात से किसी न किसी तरह जुड़े हुए हैं। राज्य में LOCKDOWN को खत्म करने पर अनिश्चितता बनी हुई है। राजस्थान में कोरोना के 288 मामले सामने आए हैं। वह उच्च जोखिम वाले क्षेत्रों से लोगों के निकलने की योजना बनाने को लेकर उलझन में है ।

छत्तीसगढ़ में कोरोना के 10 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर कोरोना वायरस (CORONAVIRUS) फैलने की आशंका के चलते अंतरराज्यीय यात्रा को लेकर चिंता व्यक्त की है। केवल मध्यप्रदेश का विचार अलग है। यहां 165 मामले सक्रिय है। राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का कहना है कि गेहूं खरीद 15 अप्रैल से शुरू हो जाएगी।

सरकारी कर्मचारियों बस इतने दिन करना होगा वेतन का इंतज़ार : CM SHIVRAJ

तेलंगाना के मुख्यमंत्री राव ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, ‘वायरस को रोकने के लिए हमारे पास LOCKDOWN के अलावा कोई और हथियार नहीं है। मैं प्रधानमंत्री से अपील करता हूं कि LOCKDOWN को बढ़ाया जाए। मैं तहेदिल से इसका स्वागत करता हूं। हमारी अर्थव्यस्था अगले छह महीने या एक साल में पटरी पर लौट सकती है लेकिन लोगों की जिंदगी एक बार गई तो उसे वापस नहीं लाया जा सकता।’

Facebook Comments