फिरौती मांगने घर पहुंचा गैंगस्टर का गुर्गा, दरवाजा खुलते ही बरसा दी गोलियां

Crime National
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने राजेंद्र नगर में एक व्यापारी से 2.5 करोड़ की फिरौती मांगने के और सौम्या विश्वनाथन की हत्या के आरोपी अमित शुक्ला समेत 8 लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक 23 फरवरी को एक PCR कॉल हुई थी जिसमें बताया गया कि दो लोगों को गोलियां लगी है और गंगा राम अस्पताल में इलाज करवाया जा रहा है. पुलिस नें पीडित की शिकायत के बाद जांच शुरु की और घर में गोली के तीन खाली खोल मिले. पुलिस को शिकायत में बताया गया कि किसी नंबर से व्हाट्सऐप पर 2.5 करोड़ की फिरौती मांगी जा रही थी और ना देने पर घर के दरवाजे पर गोली चलाने की धमकी दी जा थी.

लेकिन पीड़ित ने धमकी को गंभीरता से नहीं लिया और 23 फरवरी को दो लड़के घर पर आये और दरवाजे पर गोलियां चलाई जिसमें पीड़ित और उसका 12 साल का भतीजा घायल हुआ.

पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला कि इस फिरौती के पीछे पत्रकार सौम्या विश्वनाथन की हत्या का दोषी अमित शुक्ला और नवीन डबास है. दोनों इस समय तिहाड़ जेल में बंद है और वहीं से फिरौती की मांग की जा रही थी. दोनों को व्यापारी के बारे में जानकारी उसके पुराने बिजनेस पार्टनर अभय अरोड़ा ने दी थी.

दरअसल आरोपी अभय अरोड़ा का पैसों को लेकर व्यापारी से विवाद चल रहा था जिसके लिये पहले उसने लखन वर्मा नाम के आरोपी से मदद मांगी, जिसके बाद लखन ने अभय को अपने रिशतेदार सुशील से मिलवाया जो इलाके का बीसी यानि बैड कैरेटर है और तिहाड़ जेल में भी रह कर आ चुका है.

वहीं पर सुशील की दोस्ती नवीन डबास और अमित शुक्ला से हुई थी. पुलिस को सुशील के पास वो सभी वीडियों भी मिले जो अमित शुक्ला और नवीन डबास ने व्यापारी को धमकाने के लिये बनाये थे. पुलिस ने सुशील की निशानदेही पर उन दोनों आरोपियों अंकित और वरुण को भी गिरफ्तार किया जिन्होनें व्यापारी के घर पर गोली चलाई थी. पुलिस ने इस मामले में 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया है जिनके नाम, अमित शुक्ला, नवीन डबास, वरुण वशिष्ठ, लखन वर्मा, सुशील, नीतेश, अंकित और अभय अरोड़ा है.

Facebook Comments