CG: अपने ही परिवारों के आंदोलन को कुचलने के लिए राजधानी की सड़कों पर उतरी पुलिस, देर रात से वाहनों की चेकिंग जारी

छत्तीसगढ़ रायपुर राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय

रायपुर। अपनों के अधिकारों के लिए आंदोलनरत परिवारों को रोकने के लिए अब अपने ही सड़क पर डंडा लिए खड़े हैं। राजधानी रायपुर की सड़कों पर जगह-जगह पुलिस का पहरा है। पुलिस परिवारों के आंदोलन और प्रदर्शन को रोकने के लिए रविवार देर रात से सभी वाहनों की चेकिंग की जा रही है। इसमें बाहर से आने वाली बसें, ट्रेनें यहां कि ऑटो व टैक्सी भी शामिल हैं। पुलिस और प्रशासन इस मामले में कोई कोताही नहीं बरतना चाहते हैं ऐसे में सुबह से ही धरना स्थल ईदगाह भाठा पर भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया है। पुलिस परिवार विरोध प्रदर्शन में शामिल होने से रोकने के लिए पुलिसकर्मियों पर अधिकारियों ने कड़ी नजर बना रखी है।

छत्तीसगढ़ के पुलिसकर्मियों के परिजन 11 मांगों काे लेकर सोमवार को राजधानी में जुटने की तैयारी में हैं। ईदगाहभाठा मैदान में एक दिनी धरने की घोषणा की गई है। उन्होंने इसके लिए कलेक्टर से अनुमति भी मांगी थी, लेकिन कलेक्टर ने उनका आवेदन रद्द कर दिया है।

धरने की अनुमति के बिना ही धरने की तैयारी 

धरने की अनुमति नहीं मिली, बावजूद इसके पुलिस परिवार आंदोलन पर कायम हैं। इधर पुलिस ने भी प्रदर्शनकारियों को रोकने की तैयारी कर ली है। राजधानी की चारों एंट्री के अलावा सभी प्रमुख सड़कों पर रविवार से ही फोर्स तैनात कर दी गई है। जो भी परिवार धरनास्थल तक पहुंचेंगे, उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इसके लिए एएसपी ने टीमें बनाई हैं। पुलिस की कोशिश होगी कि धरनास्थल पहुंचने से पहले ही गिरफ्तार कर लें। पुलिस परिवार आंदोलन को लेकर बाहर से भी फोर्स बुलाई गई है।

राजधानी में तगड़ी घेराबंदी

शहर में एंट्री करने वाले मार्गों में सुबह से पुलिस जवान तैनात कर दिए गए हैं। शहर आने वाली हर गाड़ी की वीडियोग्राफी की जा रही है। सुबह से ही एक-एक गाड़ी को रोककर जांच शुरू हो गई है। उसमें बैठे लोगों का नाम, नंबर नोट किया जा रहा है। जो भी वाहन ईदगाह भाठा मैदान की ओर मुड़ता है, उसे वहीं रोककर पूछताछ की जा रही है। पुलिस परिजनों को तत्काल हिरासत में लेने के आदेश दिए गए हैं। हालांकि अभी तक इस संबंध में किसी को पकड़ा नहीं गया है।

तड़के शुरू हो गई पुलिस क्वार्टरों की जांच

पुलिसकर्मियों के क्वार्टरों की तलाशी अभियान सुबह 5 बजे से शुरू हो चुका है। थाना प्रभारी अपने-अपने इलाके में पुलिस क्वार्टर के बाहर नजर रखे हुए हैं। पुलिस की टीमें ईदगाहभाटा के अलावा भाठागांव मैदान, महादेव घाट, बीटीआई मैदान, साइंस मैदान और बीरगांव अडवानी स्कूल में भी तैनात की गई है।

आवश्यक दिशा-निर्देश जारी 

पुलिसकर्मियों के मांगों को लेकर उनके परिजनों द्वारा आयोजित आंदोलन को अफसर हर हाल में फेल करने में जुटे हैं। रायपुर एसपी ने इसे लेकर पुलिस अफसरों की रविवार को मीटिंग ली। तैयारियों की समीक्षा की और जरूरी दिशा-निर्देश दिए।

बनाए गए चेकिंग पॉइंट 

शहर के आउटर के साथ ही भीतर भी चेकिंग पाइंट बनाए गए हैं। सुबह से ही अफसर शहर में घूमेंगे। सरकारी आवासों की जांच होगी। हालांकि जिला पुलिस के कर्मचारियों ने आंदोलन में शामिल नहीं होने का हलफनामा दिया है, लेकिन सशस्त्र बल और एसटीएम के जवान अभी भी आंदोलन पर आमादा हैं।