जब सरकार ने नहीं बनवाई गांव की सड़क तो योगी के मंत्री ने खुद उठाया फावड़ा

उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय

यूपी के कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने सड़क बनाने के लिए खुद फावड़ा उठाया और साथ ही योगी सरकार पर निशाना भी साधा. उन्होंने कहा कि जब एक मंत्री के घर सड़क नहीं बन सकती तो जनता भगवान भरोसे है.

दरअसल 24 जून को ओमप्रकाश राजभर के बेटे की शादी है. लेकिन गांव में सड़क नहीं बन पाई है. लगातार अपनी सरकार से गांव की सड़क बनाने की गुहार लगाने के बावजूद जब सड़क नहीं बनी तो मंत्री, उनके परिवार और गांव के लोगों ने खुद ही फावड़ा उठाकर सड़क बनानी शुरू कर दी.

ओमप्रकाश राजभर के बेटे की शादी में योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री और केंद्रीय मंत्रियों के आने की संभावना है. अब इस मौके पर विकास के नाम पर भी सियासत होनी तय है. मंत्री के छोटे बेटे ने मीडिया को बयान जारी कर कहा कि 500 मीटर सड़क बनाने के लिए लगभग 6 माह पहले प्रस्ताव दिया था. 24 जून को मंत्री ओमप्रकाश राजभर के बड़े बेटे अरविंद की शादी है, लेकिन काम नहीं हो सका.

बता दें कि मंत्री ओमप्रकाश राजभर के घर वाराणसी के सिंधौरा गांव में शादी समारोह और भोज है. जिसमें वीआईपी, कैबिनेट मंत्री, राज्य मंत्री, सांसद और विधायकों के आने की उम्मीद है. जब सरकार सड़क नहीं बना पाई तो खुद मंत्री ओमप्रकाश राजभर अपने दोनों बेटों अरविद राजभर, अरुण राजभर ने साथ फावड़ा उठाकर सड़क बनाने की कोशिश में जुट गए. ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि एक मंत्री का जब ये हाल है तो जनता क्या उम्मीद करेगी. उन्होंने कहा कि जनता भगवान भरोसे ही है.