सीधी: एसआईटी के 32 छात्रों को तीन लाख के पैकेज में मिला रोजगार

विंध्य सीधी

अगस्त माह में २५० छात्रों को रोजगार देने का लक्ष्य है प्रस्तावित


बेरोजगारों को शिक्षा के साथ वेहतर रोजगार का अवसर प्रदान करना हमारा उद्देश्य – दीपक


सीधी। एसआईटी कालेज सीधी में शिक्षाध्यन करने वाले विद्यार्थियों को शिक्षा के साथ ही जीवन जीने की कला शिखाई जाती है, जिसके चलते बच्चों का जीवन उज्जवल हो इसी उद्देश्य के साथ कालेज में कैम्पस सेलेक्सन कार्यक्रम आयोजन के अंतिम चरण में वेलकम मेल के साथ चयनित छात्र छात्राओं को कालेज के डायरेक्टर दीपक गुप्त एवं मनी मेकर रिसर्च प्रा०लि०इन्दौर के साथ समस्त स्टाप के द्वारा सीटीसी तीन लाख की प्रदान की गई। जिसे पाकर होनहार एवं प्रतिभावान छात्रों के ऑखों से खुसी के ऑसू बह चले।

विद्यार्थियों की मानें तो उन्हे खुद उम्मीद नहीं थी कि शिक्षा दिक्षा समाप्त होते ही रोजगार के सुनहरे अवसर तुरन्त प्राप्त हो जायेगा। हमें गर्व है कि हमारें साथ चयनित अन्य विद्यार्थियों को विना किसी शिफारिस के योग्यता को दृष्टिवत रखते हुए हमें रोजगार के अवसर प्राप्त हुए हैं। हम सब आभारी हैं इ० विवेक पाण्डेय ट्रेनिंग एण्ड प्लेसमेन्ट आफिसर एवं संजय श्रीवास्तव के जिनके मार्गदर्शन में हम सब आज इस मुकाम में हैं।

कई बडे शहरों में सेवा दे चुके कुशल प्रशिक्षक इंजीनियर विवेक पांडे ट्रेनिंग प्लेसमेंट ऑफिसर ने बताया कि अगस्त २०१८ में रोजगार अवसर प्रदान करने की मंशा से एस आई टी ग्रुप एवं औरोस्टार इनवेस्टमेन्ट एडवासिर सर्विस के द्वारा २५० होनहार छात्रों को कैम्पस सेलेक्सन के माध्यम से वेहतर रोजगार देने का कार्य प्रगति पर है। कालेज प्रबंधन, डायरेक्टर दीपक गुप्त, एच एल शर्मा प्राचार्य, राजकरण शुक्ल बीएड प्राचार्य, समस्त एच ओ डी एवं स्टाप की कड़ी मेहनत सतत जारी है, बच्चों को रोजगार के अवसर प्रदान करने हेतु सक्षम बनाने का पूरा खाका तैयार किया जा चुका है जल्द ही निश्चित तिथि को घोषणा कर दी जायेगी। कालेज प्रबंधन का उद्देश्य है कि सीधी शहर के होनहार छात्र बडे शहरों की तर्ज पर कैम्पस सेलेक्सन के माध्यम से अधिक से अधिक लाभांवित हो सके।

१२ जुलाई २०१८ गुरूवार को आयोजित कार्यक्रम में श्री पाण्डेय द्वारा चयनित छात्रों को आगे होने वाले प्रशिक्षण से अवगत कराया गया, साथ ही डायरेक्टर दीपक गुप्त ने चयनित प्रतिभावान छात्रों के उज्जवल भविष्य की कामना की गई।

कार्यक्रम के दौरान एच एल शर्मा प्राचार्य, के पी पटेल, डा० राजकारण शुक्ला बीएड प्राचार्य
एवं समस्त एचओडी एवं स्टांप की उपस्थिति रही।