बड़ी खबर : मैहर शारदा मंदिर में दर्शन करने वालो के लिए खुशखबरी, ये नहीं पढ़ा तो कुछ नहीं पढ़ा

सतना

सतना। प्रदेश के बड़े मंदिरों में हरसिद्धि मंदिर उज्जैन की तर्ज पर दीप स्तंभ स्थापित किए जाएंगे। प्रथम चरण में मैहर शारदा माता मंदिर सहित पांच मंदिरों का चयन किया गया है। इनमें सिद्धेश्वर मंदिर शिवपुरी, पशुपतिनाथ मंदिर मंदसौर, ओरछा श्री राम राजा मंदिर और शनिश्चरी मंदिर मुरैना का चयन किया गया है। यह काम गृह निर्माण मंडल करेगा। पूरा काम एक माह में करने के निर्देश मंत्री धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व विभाग यशोधरा राजे सिंधिया ने दिए हैं।

इस तरह होगा निर्माण
मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि मंदिरों को भव्यता और दर्शनीयता प्रदान करने के लिये इसे प्राथमिकता से किया जाए। विगत सप्ताह धर्मस्व विभाग की समीक्षा बैठक में उन्होंने कहा कि दीप स्तंभ स्थापित करने के लिये गृह निर्माण मंडल तत्काल प्राक्कल तैयार कर राशि की मांग करें और अगले एक माह में इसे तैयार करने की कार्यवाही करे।

साइनेज लगाने का काम भी किया जाए

इस दौरान उन्होंने धर्मस्व विभाग के तहत होने वाले निर्माण कार्यों की धीमी प्रगति पर भी नाराजगी जाहिर की। कहा प्रगति बिल्कुल भी संतोषजनक नहीं है लिहाजा इसमें सुधार किया जाए। उन्होंने कहा कि प्रसिद्ध मंदिरों में दूरदराज से श्रद्धालुओं का आगमन होता है। कई बार जानकारी के अभाव में उन्हें काफी परेशानी होती है। लिहाजा मंदिरों में साइनेज लगाने का काम भी किया जाए।

15 लाख के काम कलेक्टर को दें
धर्मस्व विभाग के कामों की धीमी गति को देखते हुए मंत्री ने आयुक्त गृह निर्माण मंडल को निर्देश दिए हैं कि 15 लाख तक के जितने भी काम हैं उन्हें कलेक्टर को वापस कर दिए जाएं। ताकि वे इन्हें ग्राम पंचायतों या अन्य एजेंसियों के माध्यम से इस काम को करवा सकें, जिससे राशि लेप्स न हो सके।

कलेक्टरों को लिखा पत्र
निर्माण कार्यों की धीमी प्रगति को देखते हुए मंत्री के निर्देशों से संबंधित कलेक्टरों को भी अवगत कराया गया है साथ ही उन्हें इन निर्णयों का पालन कड़ाई से कराने कहा गया है।