ये ‘इश्क़’ नहीं आसान सिर्फ इतना समझ लीजिये ” युवक-युवती ने ट्रेन से कटकर आत्महत्या की..: SATNA NEWS

सतना

सतना। अमदरा थाना अंतर्गत पकरिया के पास युवक-युवती ने ट्रेन से कटकर आत्महत्या कर ली, जिस पर मर्ग कायम कर जांच की जा रही है। टीआई अरूण मर्शकोले ने बताया कि शुक्रवार रात को लगभग 9 बजे पकरिया रेलवे स्टेशन के आउटर पर एक व्यक्ति के कटने की सूचना आरपीएफ चौकी झुकेही से दी गई तो बीट इंचार्ज को जांच के लिए रवाना कर दिया गया, लेकिन जब वह मौके पर पहुंचे तो वहां युवक और युवती के क्षत-विक्षत शव पड़े मिले। पुलिसकर्मी से यह खबर मिलने पर थाना प्रभारी भी पकरिया चले गए। स्थानीय सफाईकर्मियों की मदद से शव को पटरी से हटाकर कपड़ों की तलाशी ली गई तो युवक के पास से पर्स मिला, जिसमें आधार कार्ड व डायरी रखी थी। इसके जरिए मृतक की पहचान कृष्ण कुमार साकेत पुत्र सुदामा प्रसाद 19 वर्ष निवासी गोरइया थाना बदेरा के रूप में की गई, पर युवती की शिनाख्त नहीं हो पाई। लिहाजा जिले के सभी थानों को रेडियो मैसेज कर मदद मांगी गई। इसी दौरान मैहर के पटेहरा निवासी रामप्रकाश चौधरी अपनी बेटी पूनम चौधरी 22 वर्ष के लापता होने की शिकायत लेकर मैहर थाने पहुंच गए, जहां उन्हें एक शव मिलने की जानकारी देकर अमदरा रवाना कर दिया गया। पत्नी और परिजनों के साथ अमदरा पुलिस के पास पहुंचे रामप्रकाश को जब लाश और कपड़े दिखाए गए तो उन्होंने पूनम को पहचान लिया। ऐेसे में शनिवार दोपहर को पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सुपुर्द कर दिए गए।

युवक मेला घूमने तो युवती बाजार जाने की बात कहकर निकली-
पुलिस को दिए बयान में कृष्ण कुमार के परिजनों ने बताया कि शुक्रवार शाम 4 बजे तक वह खेत में काम कर रहा था, इसके बाद मेला देखने की बात कहकर गांव के लिए निकल गया। रात में अहरी नहीं लौटने पर मां और भाई यह समझकर चैन की नींद सो गए कि वह गांव वाले घर में रूक गया। उन्हें तो पुलिस का फोन आने पर हकीकत पता चली। घर से निकलते समय कृष्ण कुमार ने मोबाइल वहीं छोड़ दिया था तो बाइक का धोकर अंदर खड़ा कर आया था। उधर पूनम अपने घर से शाम करीब 7 बजे बाजार से कुछ सामान लाने की बात कहकर निकली तो वापस ही नहीं गई। कुछ घंटों तक इंतजार करने के पश्चात परिजनों ने उसकी तलाश शुरू कर दी थी।

पैसेंजर से पहुंचे पकरिया-
प्रारंभिक जांच में मिले परिस्थिति जन्य साक्ष्यों के आधार पर पुलिस का अनुमान है कि मैहर रेलवे स्टेशन पहुंचने के बाद दोनों लोग पैसेंजर ट्रेन से पकरिया पहुंचे और वहां उतरकर पैदल ही आउटर सिग्नल के आगे चले गए। रात लगभग 9 बजे सारनाथ एक्सप्रेस वहां से गुजरी तो युवक-युवती ने ट्रेन के सामने खड़े होकर जान दे दी। पुलिस के मुताबिक रिश्तेदारी में आने-जाने के दौरान दोनों की जान पहचान हो गई थी। हालांकि परिजन ने उनके बीच प्रेम-प्रसंग चलने की बात से अनभिज्ञता जाहिर की है।

Facebook Comments