पहली बार SATNA की जनता से नगर निगम ने माँगा सुझाव, ब्राजील मॉडल का पार्टिसिपेटरी बजट बनाने सोशल मीडिया के इस व्हाट्सप्प नंबर पर दे सुझाव : SATNA NEWS

सतना

सतना. नगर निगम के बजट को लेकर हर बार जनप्रतिनिधियों और जनता को यह शिकायत होती थी कि निगम प्रशासन ने अपने तरीके से मनमानी बजट तैयार कर दिया। उनकी मांग को कोई तवज्जो नहीं दी गई। इसे देखते हुए निगमायुक्त अमनवीर सिंह प्रदेश का अपनी तरह का पहला ब्राजील मॉडल का पार्टिसिपेटरी बजट बनाने जा रहे हैं। इसमें बजट के पहले जनता के सुझाव लिए जाएंगे और उसके अनुसार बजट तैयार किया जाएगा। जनता का सुझाव लेने के लिए शहर में कई स्थानों पर सुझाव पेटियां लगाई गई हैं। साथ ही सोशल मीडिया पर सुझाव का प्रारूप भी जारी किया गया है। इसके आधार पर जनता अपने सुझाव दे सकती है।


नगर निगम सतना पहली बार ब्राजील मॉडल पर ‘सुझाव आपका बजट हमारा’ के तहत पार्टिसिपेटरी बजट बनाने जा रहा है। बजट कैसा हो और उसमें क्या जोड़ा जाए, उसके लिए जनता से सुझाव चाहे गए हैं। इसके लिए नगर निगम कार्यालय सहित पुष्करिणी पार्क, मैत्री पार्क, सिविल लाइन चौपाटी, जयस्तंभ चौक, काका स्वीट मार्ट, सुलभ काम्पेक्स व कल्याणी पार्क में सुझाव पेटियां लगाई गई हैं। कलेक्ट्रेट परिसर, संतोषी माता मंदिर, कीर्ति बाजार सेमरिया चौक पर 27 फरवरी को सुझाव पेटियां लगा दी जाएंगी। इन सुझाव पेटियों में नगरवासी अपनी मांग तय प्रारूप में डाल सकेंगे।

कैसे भरना है फार्म… चिंता न करें

अगर आपको तय प्रारूप में फार्म कैसे भरना है…, यह समझ में नहीं आ रहा तो इसके लिए भी नगर निगम ने व्यवस्था कर रखी है। जहां सुझाव पेटियां लगाई गई हैं वहां तैनात कर्मचारी के पास एक भरा हुआ फार्म रखा गया है उसके अनुसार लोग अपनी मांग भर सकेंगे।
वाट्सऐप पर भी दे सकते हैं सुझाव
निगमायुक्त ने बजट में जनसहभागिता बढ़ाने के लिए सोशल मीडिया का भी सहारा लिया है। इसके तहत लोग चाहें तो वाट्सऐप नंबर पर भी अपने सुझाव दे सकते हैं। इसके लिए दो वाट्सएप नंबर भी जारी किए गए हैंं। वाट्सऐप नंबर 9424763314 व 7225022918 पर आम नागरिक अपने सुझाव दे सकते हैं।

इस तरह है प्रारूप

सुझाव देने के लिए जो प्रारूप दिया गया है उसमें नागरिक को अपना नाम, वार्ड का नाम, मोबाइल नंबर देना होगा। इसके बाद अपने वार्ड में कौन से काम किस स्थल पर किस लंबाई का चाहते हैं उसकी जानकारी देनी होगी। कामों में सड़क, नाली, पार्क, सामुदायिक शौचालय, मुक्तिधाम, स्कूल, पानी की टंकी, पाइप लाइन, विद्युत पोल, सामुदायिक भवन व अन्य विकास की श्रेणी में बांटा गया है।

” बजट के लिए पहली बार आम जन सहभागिता ली जा रही है। इसमें जनता से सुझाव चाहे गए हैं। उचित मांगों को बजट में शामिल किया जाएगा। इससे जनता को आगे कोई शिकायत नहीं होगी और बजट में शामिल होने से कार्य करना आसाना होगा।”
– अमनवीर सिंह, निगमायुक्त

Facebook Comments