SATNA में सबसे महंगी हुई गैस, विंध्य में दिल की धड़कने बढ़ी…

सतना

सतना. दिल्ली चुनाव में भाजपा की हार के बाद केन्द्र सरकार ने देश की आम जतना को महंगाई का तोहफा दिया है। बुधवार को तेल कंपनियों ने एलपीजी गैस सिलेंडर के दाम 145 रूपए बढ़ा दिए। रसोई गैस के दाम में 6 साल में सबसे बड़ी वृद्धि के साथ सतना में रसोई गैस की कीमत 887.50 रूपए पर पहुंच गई। बुधवार को शहर में गैस एजेंसियों के कर्मचारियों ने बढ़ी हुई दर के साथ अपना कमीशन जोड़ कर उपभोक्ताओं से प्रति सिलेंडर 910 रूपए की राशि वसूली। रसोई गैस सिलेंडर की होम डिलीवरी के नाम उपभोक्ताओं से एजेंसियों द्वारा कराई जा रही अवैध वसूली से सतना मे रसोई गैस के दाम देश में सबसे महंगे हो गए हैं। इसके बावजूद गैस एजेसियों की मनमानी पर न तो जिला प्रशासन लगाम लगा रहा और न ही गैस कंपनियों के प्रतिनिधि कोई कार्रवाई कर रहे हैं।

लुट रही जनता, सो रहा प्रशासन

एलपीजी गैस एवं पेट्रोलिय पदार्थो की अपूर्ति एवं उपभोक्ताओं के हितों की रक्षा की जिम्मेदारी खाद्य विभाग की है। लेकिन जिला खाद्य आपूर्ति अधिकारी को गैस एजेंसियों द्वारा उपभोक्ताओं से प्रतिदिन की जा रही अवैध वसूली से कोई लेना देना नहीं हैं। प्रशासन की अनदेखी से एजेसी संचालक खुले आम शहर की आम जतना को लूट रहे हैं। शहर में 888 रूपए का गैस सिलेंडर उपभोक्ताओं को खुलेआम 910 रूपए में बेचा जा रहा है। इससे उपभोक्ता को प्रति सिलेंंडर 22 रूपए की चपत लग रही है।
सबसे महंगा मोटवानी का सिलेंडर

बुधवार की सुबह गैस एजेंसियों की गाड़ी सिलेंडर लेकर कालोनियों में पहुंची तो गैस सिलेंडर के दाम सुनकर लागों के पैर तले जमीन खिसक गई। एक रात में सिलेंडर के दाम 145 रूपए बढ़ जाने से गरीब उपभोक्ताओं को खाली सिलेंडर लेकर घर लौटना पड़ा। सुबह बढ़े हुए दाम पर गैस सिलेंडर रिफिल कराने वाले उपभोक्ताओं ने बताया की मोटवानी गैस एजेंसी के कर्मचारियों ने 910 रूपए में सिलेंडर दिया। जबकी एचपी एवं भारत गैस के कर्मचारियों ने उपभोक्ताओं से 900 रूपए वसूले।
क्षेत्रीय अधिकारी नहीं सुनते शिकायत

पेट्रोलिएम पदार्थ एवं रसोई गैस के उपभोक्ताओं की सुविधा एवं गैस एजेंसियों की निगरानी तेल एवं एलपीजी का मूल्य नियंत्रण के लिए भारत पेट्रोलियम, हिंदुस्तार पेट्रोलिए एवं इंडियन आयल तीनों कंपनियों ने जिले में अपने क्षेत्रीय एवं विक्रय अधिकारी नियुक्त कर रखे हैं। लेकिन वह अपने कार्य क्षेत्र से नदारद रहते हैं। गैस एजेंसियों के कार्यालय में कंपनी के क्षेत्रीय अधिकारियों के नंबर लिखे हैं लेकिन जब शिकायत के लिए उनसे संपर्क किया जाता है तो वह उपभोक्ताओं के फोन रिसीव नहीं करते।
सिलेंडर के दाम

रसोई गैस 14.2 केजी पूराना मूल्य 743 रूपए
रसोई गैस के दाम में वृद्धि 145 रूपए

रसोई गैस की नई कीमत 888 रूपए<

Facebook Comments