Thursday, November 26, 2020
dairy-structure

रीवा: चमक-गरज के साथ तूफानी हवा ने मचाया कहर, डेयरी का स्ट्रक्चर उड़ा, कई घायल

रीवा

रीवा। बुधवार 13 जून की दोपहर आए चक्रवाती तूफान ने रीवा जिले के कई क्षेंत्रों में नुकसान पहुंचाया। तूफान की वजह से जहां एक ओर कई पेड़ धराशायी हो गए वहीं दूसरी ओर एक डेयरी का स्ट्रक्चर ढह गया। आए दिन चमक-गरज के साथ तूफानी मौसम कहर बनकर सामने आ रहा है और इससे जन-धन की हानि भी हो रही है। बुधवार की शाम अचानक मौसम बदल गया और रात में चमक-गरज के साथ जहां बारिश हुई वहीं तूफानी हवा चलने के कारण नईगढ़ी क्षेत्र के कई गांवों में आधा सैकड़ा पेड़ टूटने के साथ ही इस तूफान के चलते कई कच्चे घर भी प्रभावित हुए हैं। इससे जनहानि होने के साथ-साथ मवेशी भी मौसम की मार से प्रभावित हुए हैं। बताया जा रहा है कि नईगढ़ी क्षेत्र के चिल्ल, बंधवा सहित आसपास के अन्य गांवों में प्रकृति की मार पड़ी है। इसी तरह रायपुर कर्चुलियान तहसील अंतर्गत बुढ़िया, लोहदवार, कठेरी, बंधवा, सुरसा आदि क्षेत्र में भी मौसम प्रभावी रहा है और इसकी चपेट में आने से लगभग आधा दर्जन लोग घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

डेयरी का कई टन भारी स्ट्रक्चर उड़ा

शहर के समीप रायपुर कर्चुलियान थानान्तर्गत संचालित गौरा डेयरी का कई टन भारी स्ट्रक्चर तूफान की चपेट में आ गया। हांलांकि इस आपदा में डेयरी के किसी कर्मचारी एवं पशुओं को किसी भी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंचा है। परंतु 2015 में शुरू हुई इस डेयरी का पूरा स्ट्रक्चर तबाह हो गया। डेयरी संचालक अनादि मिश्रा ने बताया कि इस आपदा में उन्हे लाखों का नुकसान हुआ है।

वही रायपुर कर्चुलियान में ही तूफान आने के कारण टीन शेड हवा में लहराती रही और टीन शेड की चपेट में आ जाने के कारण रायपुर कर्चुलियान थाना के लोहदवार निवासी राजकुमारी सेन पत्नी राजबहोर सेन (45) और उसका पुत्र विनोद सेन घायल हो गए। इसी तरह तूफानी हवा के चलते नईगढ़ी तहसील अंतर्गत चिल्ल गांव निवासी शिव बहोर मिश्रा, भारत साकेत, वंशपती सेन, तेज प्रताप मिश्र का रिहायसी कच्चा माकान गिर गया। जबकि तूफान के कारण गिरे पेड़ों के चपेट मे आने से चिल्ल गांव निवासी रज्जन प्रजापति पिता सीताराम प्रजापति (26) व छोटेलाल प्रजापति पुत्र अंगद प्रसाद प्रजापति (45) गंभीर रूप से घायल हो गए। इसी गांव के निवासी पशु पालक किसान वंशपती सेन की दो दुधारू भैंस व हीरालाल प्रजापति की दो गाय गंभीर रूप से घायल हो गई।