अनुपयोगी कचरे से घर होंगे रोशन, 6 मेगावाट की बिजली का होगा उत्पादन

रीवा

अनुपयोगी कचरे से घर होंगे रोशन, 6 मेगावाट की बिजली का होगा उत्पादन

रीवा। जिले के पहड़िया ठोस अपशिष्ट प्रबंधन संयंत्र में कचरे से बिजली बनायी जायेगी। अनुपयोगी कचरे से बिजली का उत्पादन होगा और सबके घर रोशन होंगे। प्रदेश के पूर्व मंत्री एवं रीवा विधायक राजेन्द्र शुक्ल ने 6 मेगावाट विद्युत उत्पादन संयंत्र का भूमिपूजन किया है। इस दौरान कलेक्टर इलैयाराजा टी व आयुक्त नगर निगम मृणाल मीणा उपस्थित रहे।

AMAZON DEALS – UPTO 80% OFF

अनुपयोगी कचरे से घर होंगे रोशन, 6 मेगावाट की बिजली का होगा उत्पादन

भूमिपूजन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रीवा विधायक श्री शुक्ल ने कहा कि कचरे को समाप्त करने का यही एक विकल्प है कि उसका विधिवत निष्पादन हो। पहड़िया में बनाये जा रहे ठोस अपशिष्ट प्रबंधन संयंत्र में जिस कचरे को अनुपयोगी माना जाता है उससे खाद तो बनेगी ही साथ ही 6 मेगावाट बिजली का भी उत्पादन होगा। इससे शहर की गंदगी समाप्त होगीए कचरा खत्म होगा तथा शहर सुंदर व स्वच्छ दिखेगा।

उन्होंने निर्माण एजेंसी को निर्देश दिये कि 15 जनवरी 2021 से कम्पोस्ट प्लांट को प्रारंभ करायें तथा एक वर्ष से कम समय में विद्युत उत्पादन संयंत्र को पूर्ण गुणवत्ता के साथ पूरा कराते हुए उत्पादन शुरू कराया जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने संयंत्र परिसर में चारों ओर अधिक से अधिक सघन वृक्षारोपण किये जाने के निर्देश भी दिये। इस अवसर पर कलेक्टर इलैयाराजा टी ने कहा कि रीवा शहर सहित संभाग के अन्य नगरीय निकायों के कचरे का प्रबंधन इस संयत्र में होगा।

अनुपयोगी कचरे से घर होंगे रोशन, 6 मेगावाट की बिजली का होगा उत्पादन

कचरे का सदुपयोग खाद बनाने के साथ ही विद्युत उत्पादन में हो सकेगा

आयुक्त नगर निगम मृणाल मीणा ने निर्माण एजेंसी से अपेक्षा की कि नियत समय में सभी इकाइयां प्रारंभ हो जायं ताकि नगरीय निकायों के कचरे का शोधन होने लगे। उन्होंने समय सीमा में गुणवत्तापूर्ण कार्य पूरा किये जाने के निर्देश निर्माण एजेंसी को दिये। इससे पूर्व निर्माण एजेंसी रेमकी के प्रोजेक्ट मैनेजमेंट राजीव गुप्ता ने बताया कि 6 मेगावाट विद्युत उत्पादन संयत्र को नियत समय में पूरी गुणवत्ता के साथ पूरा करा लिया जायेगा। साथ ही कम्पोस्ट संयंत्र 15 जनवरी 2021 से कार्य करने लगेगा। भूमिपूजन के उपरांत विधायक श्री शुक्ल एवं कलेक्टर व आयुक्त नगर निगम ने निर्माणाधीन संयंत्र का भ्रमण भी किया।

रीवा एवं संभाग के 28 नगरीय निकायों से निकलने वाले कचरे का प्रबंधन किया जायेगा

रीवा एवं संभाग के 28 नगरीय निकायों से निकलने वाले कचरे का प्रबंधन किया जायेगा
उल्लेखनीय है कि पहड़िया में बनाये जा रहे एकीकृत ठोस अपशिष्ट प्रबंधन परियोजना क्लस्टर रीवा में रीवा एवं संभाग के 28 नगरीय निकायों से निकलने वाले कचरे का प्रबंधन किया जायेगा। निर्माण एजेंसी एमएस डब्ल्यू होड्डल्डग लिमिटेड रैमकी हैदराबाद द्वारा वेस्ट टू एनर्जी प्लांटए कम्पोस्ट प्लांटए लैण्डफिल आदि का कार्य 45 एकड़ क्षेत्र में 158ण्67 करोड़ रूपये की लागत से कराया जा रहा है। भूमिपूजन कार्यक्रम में एसडीएम एके सिंहए अधीक्षण यंत्री शैलेन्द्र शुक्लए तहसीलदार प्रभाकर सिंहए कार्यपालन यंत्री एसके चतुर्वेदीए प्रेमप्रकाश पाण्डेयए ऋषि पाण्डेय सहित एमएसडब्ल्यू बेड्डल्डग के सीतारामए मुरली मोहनए कैलाश पाण्डेयए नगर निगम के अधिकारी व निर्माण एजेंसी के अधिकारी.कर्मचारी उपस्थित रहे।

मध्यप्रदेश में ‘लव जिहाद’ और धर्मांतरण क़ानून को मंजूरी, शिवराज कैबिनेट ने ठोंकी ताबूत में अंतिम कील

इस बैंक का RBI ने अचानक खाता कर दिया निरस्त, कही आपका तो अकाउंट नहीं…

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

Facebook WhatsApp Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *