सीवर और गैस पाइप लाइन के गड्ढों से रीवा के सड़कों का बुरा हाल

सीवर और गैस पाइप लाइन के गड्ढों से रीवा के सड़कों का बुरा हाल

रीवा

रीवा। विकास की अंधी दौड में शहर के सड़कों का बुरा हाल है। हालत यह है कि शहर की मुख्य सडक मानी जाने वाली पुरानी एनएच 7 चोरहटा से लेकर न्यू बस स्टैण्ड तक दोनो ओर खुदी पडी है। मलबे और गंदगी से समूचा नगर निगम क्षेत्र पटा हुआ है। वाहनों के निकलने से चारों ओर धूल के गुब्बार का धुंध छा जाता है।

वही आने वाले समय में स्वच्छता सर्वे होने वाला है। ऐसे मे माना जा रहा है कि रीवा नगर निगम किस पायदान पर पहुंचेगा यह सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है। दो पहिया वाहन चालकों और पैदल यात्रियों को सडक पर चलना मुश्किल भरा होने के साथ ही जानलेवा साबित हो रहा है। मुख्य सडक होने के नाते वाहनों आवाजाही भी ज्यादा है। लेकिन इस ओर न तो जिला प्रशासन का ध्यान जा रहा है और न ही नगर निगम अमला ध्यान दे रहा है।

रीवा में होटल मैनेजर की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, पुलिस और परिजनो के बीच हुई नोकझोंक

धूल के गुब्बार में शहर

सीवर लाइन की मुख्य पाइप डालने के लिए एनएच को एक नाले के भांति खोद दिया गया है। सडक पर मिट्टी के ढेर लगे हुए हैं। पाइप डालने के बाद उसी मिट्टी से गड्ढे को पाट कर यातायात बहाल कर दिया गया जिससे चारों ओर धूल ही धूल है। लेकिन कक्रीट का काम अभी भी शुरू नही किया गया। ऐसे में वाहनों के निकलने पर चारों ओर धूल के गुब्बार से राहगीरों का बुरा हाल है।

सीवर और गैस पाइप लाइन के गड्ढों से रीवा के सड़कों का बुरा हाल

जगह जगह लगता है जाम

एक ओर की सडक पूरी तहर खुद जाने से दोनो तरफ के वहनों की आवाजाही एक ही ओर की सडक पर निर्भर है। कार्यालयीन तथा साम के समय सडक पर वाहनों का दबाव बढ जाता है। जगह जगह जाम लगना आम बात है। कई बार एक ही जगह पर आधे घंटे से भी ज्यादा समय तक जाम में लोग फंसे रहते हैं। हालात कुछ ऐसे है कि लोग सडको पर निकलने से कतरा रहे हैं।

सडकों का बुरा हाल

सीवर लाइन के लिए मुख्य सडक के साथ ही कालोनी की सडकों को भी खोद दिया गया है। वहीं कार्य पूर्ण होने के बाद भी सडकों में कंक्रीट का कार्य पूरा नही किया गया। जहां काम हुए भी है वह भी गुणवत्ता विहीन है। आधे अधूरे काम की वजह से यातायात सुगम नही हो रहा है। वर्तमान समय में हालत यह है कि मोहल्ले में पाइप लाइन डले एक माह से भी ज्याद समय बीत गया लेकिन कंक्रीट का कार्य नही किया जा रहा है।

Ishwar Pandey को कप्तानी से हटाया, Mohnish Mishra को कमान, T-20 के लिए आज इंदौर रवाना होगी रीवा की क्रिकेट टीम

अंडर ग्राउंड केबल विद्युतीकरण की ओर ननि का ध्यान नही

नगर निगम रीवा क्षेत्र की सडकों का खोदा जाना आम बात है। कभी टेलीफोन केबिल के नाम पर तो कभी गैस पाइप लाइन व सीवर लाइन के लिए। ऐसा लगता है कि इस तहर विकास कार्य के लिए नगर निगम के पास कोई मास्टर प्लान ही नही है। वही माना जा रहा है इस वर्ष होने वाले स्वच्छता सर्वे में अंडर ग्राउंड विद्युत केलब का कार्य होना ननि के लिए आवश्यक किया गया है। ऐसे में एक बार फिर अंडर ग्राउंड केबल विद्युतीकरण के नाम पर शहर की सडकों बलि दी जायेगी।

योजनाबद्ध तरीके से नही हो रहा कार्य

धूल और मिट्टी से पटी सडकों पर सफर करने वाले राहगीरों तथा शहर के रहवासियों का कहना है कि ननि क्षेत्र का विकास होना चाहिए। लेकिन इसके लिए ननि को विशेष योजना भी बनानी चाहिए। जिसमें आम जन को होने वाली परेशानी की ओर भी ध्यान दिया जाना चाहिए। शहर के लोगो का कहना है पाइप डालने के लिए गड्ढों को खोदने के बाद एक निश्चित समय मे कार्य पूरा दिया जाना चाहिए।

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *