बीच सड़क पर बड़े भाई ने छोटे भाई और उसकी पत्नी को ऐसे उतारा मौत के घाट, जानिए कैसे हुई यह वारदात

बीच सड़क पर बड़े भाई ने छोटे भाई और उसकी पत्नी को उतारा मौत के घाट, जानिए कैसे हुई यह वारदात

रीवा

रीवा। जमीन को लेकर चल रहे तनातनी के बीच शानिवार की दोपहर बिजली के तार लगाने जैसे विवाद ने शहर के चोरहटा थाना के दादर गांव में महाभारत जैसी इबारत लिख दी है। बड़े भाई और उसके परिवार के लोगो ने मारपीट करके अपने ही सगे छोटे भाई और उसकी पत्नी को मौत के घाट उतार दिए है। हत्या होने की जानकारी मिलने के बाद गांव पहुची पुलिस ने घटना की तफतीस शुरू कर दी है। घटना के बाद से गांव में तनाव का माहौल व्याप्त है।

पत्थर और डंडे से पीट-पीट कर हत्या

घटना चोरहटा थानांतर्गत दादर गांव की है, जहाँ शनिवार को आरोपित मृतक का बड़ा भाई रामायण पांडे सहित 6 से 7 की संख्या में रहे लोगो ने छोटे भाई राबेन्द्र पांडे और उनकी पत्नी पुष्पा पांडे को घर से बाहर सड़क पर घसीट कर ले आए। वे पत्थर, डंडा से तब तक ताबड़-तोड़ प्रहार करते रहे जब तक कि पति-पत्नी के प्राणपखेरू नही उड़ गए। बताया जा रहा है कि जिस तरह से हमलाबर अपना रूख इख्तयार कर रखे हुए थे। उसे देखकर गांव के लोग मामले में हस्ताक्षेप करने की हिम्मत नही जुटा पाए।

बिजली का तार लगाने को लेकर हुआ था विवाद

घर के लोगो ने बताया कि मृतक राबेन्द्र पांडे दोपहर में बिजली कर्मचारी को बुलाकर तार लगवा रहे थे। इसी बीच रामायण पांडे तार लगवाने का विरोध करने लगे। जिसको लेकर विवाद बढ़ गया।

अपनी नई नवेली दुनिया बसाने निकले रीवा के प्रेमी युगल का हजार किलोमीटर दूर मिला शव, जानिए क्या है पूरा मामला

पुराना है विवाद

दोनो भाईयो के बीच जमीन को लेकर पूर्व से विवाद चल रहा है। बताया जा रहा है कि पुराने विवाद की शिकायत भी थाने में की गई थी। जमीन विवाद के चलते दोनो पक्षो में अक्सर कहा-सूनी हो रही थी। जमीन और तार का ऐसा विवाद बढ़ा कि अंततः दो लोगो को अपनी जान गवानी पड़ गई है।

चौबीस घंटे बाद भी नहीं शांत हुआ हत्या का मामला

पति-पत्नी की हुई निर्मम हत्या का मामला 24 घण्टे बाद भी शांत नहीं हो पाया है। मृतक के परिजन एवं ग्रामीण रीवा सेमरिया सड़क मार्ग में उतर आए हैं। उनकी मांग है कि जमीन को लेकर चल रहे विवाद मामले में चोरहटा थाना प्रभारी ने समय पर निपटारा नहीं किया, जिसके चलते थाना प्रभारी को हटाया जाय तथा मौके पर स्वयं कलेक्टर आकर उनकी समस्या को सुनें।

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *