रीवा: चाकघाट नगर परिषद की बड़ी लापरवाहीं, नाली की सफाई कर ढकना भूल गए

रीवा: चाकघाट नगर परिषद की बड़ी लापरवाहीं, नाली की सफाई कर ढकना भूल गए

रीवा

रीवा: चाकघाट नगर परिषद की बड़ी लापरवाहीं, नाली की सफाई कर ढकना भूल गए

रीवा (विपिन तिवारी ) । नगर परिषद चाकघाट क्षेत्र अंतर्गत मल्लाहाटी टोला स्थित वार्ड क्रमांक-10 में जहां ढकी नालियों को हालही में नगर परिषद चाकघाट द्वारा तोड़-फोड़ कर जेसीबी मशीन से साफ-सफाई करवाई गई थीं जो अभी भी ज्यो का त्यो खुली पड़ी हुई हैं और पुनः कूड़े कचरे से पटती हुई नजर आ रहीं हैं। आधा किलोमीटर से अधिक दायरे में बनी इन नालियों का आधा-अधूरा सफाई या यूं कहें खानापूर्ति की गई है। आएं दिन दुर्घटनाओं को दावत दे रहीं हैं और यह खुली नालियां छोटी-छोटी घटनाओं को बड़ी दुर्घटनाओं का रूप दे सकती हैं.

रीवा: झांसा देकर दूसरी शादी रचाने वाला युवक गिरफ्तार, पढ़िए…

इन खुली नालियों में कभी बच्चें तो कभी मवेशी गिर कर चोटिल हो रहें हैं और लोगों को बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हैं। वहीं खुली नालियों के गंदगी से अनेको बीमारियों का भय लोग में व्यप्त हैं। आपको बता दे कि वार्ड क्रमांक-10 में लाखों रूपये में बने आधा किलोमीटर से ज्यादा लंबी इस नाली का कोई भी लेविल नहीं हैं जिसकी जांच होनी चाहिए व लेविल ना होने के कारण पानी निकासी में भारी समस्या बनी रहती हैं और नगर परिषद बिना जांच परख किये कमीशन के चक्कर में ऐसे भ्रष्ट ठेकेदारों को पेमेंट कर नगर के विकास और अपने दायित्व को भूल जाती हैं।

नालियों का लेविल ठीक ना होने से गंदा पानी सड़को पर बहता रहा हैं। फिलहाल सालों से बनी इन सब समस्यों के बाद नये सड़क का निर्माण करवा दिया गया जो भी गुणवत्ता विहीन हैं। लेकिन घर से निकलने वाले गंदे पानी का निकासी सुचारू ढंग से नहीं हो रहा हैं। कहीं ना कहीं नाली निर्माण में उक्त ठेकेदारों- नगर परिषद द्वारा गड़बड़ी की गई हैं जिसकी वसूली या मरम्मत उन्हीं ठेकेदारों से करवाई जानी चाहिए।

ज्योतिरादित्य सिंधिया के मोदी कैबिनेट में शामिल होने की सुगबुगाहट, ऐसे बन रहें हैं समीकरण

इस प्रकार से साफ-सफाई, रोड, नालियां और शुद्ध पेयजल सहित कीटनाशक दवाओं का छिड़काव और तमाम प्रकार की मूलभूत समस्या वार्ड क्रमांक-02,03,12,15 सहित अन्य वार्डों में भी बनी हुई हैं जिस पर नगर परिषद चाकघाट व्यवस्थाएं बना पाने में नाकाम साबित हो रहें हैं। वहीं बिना उचित व्यवस्था के नगर के सड़को के बीचों-बीच लगे लाखों-करोड़ो रूपये की स्ट्रीट लाइटें आधी से ज्यादा खराब पड़ी हुई तथा आधे से ज्यादा कई खंभे टूट कर गिरे गये व लापता भी हो गये जिनका हिसाब लिया जाएं तो शायद उन खंबो के अवशेष भी ना मिले।

सिंगरौली: कातिल पत्नी गिरफ्तार, विवाद में कर दी थी अपने पति की हत्या

सतना: थाना के अंदर आरोपी को सांप ने डंसा, पुलिस विभाग में मचा हड़कंप

[signoff]