जिले के बाहर से रीवा आने वाले प्रत्येक व्यक्ति के लिए होम क्वारेंटाइन के आदेश, उल्लंघन करने पर होगा प्रकरण दर्ज

रीवा / आज के सरकारी समाचार / 28 June, 2020 / Part-I

रीवा

कलेक्टर की अध्यक्षता में टीएल बैठक आज

रीवा 28 जून 2020. कलेक्ट्रेट सभागार में 29 जून को प्रात: 11 बजे से कलेक्टर इलैयाराजा टी की अध्यक्षता में टीएल बैठक आयोजित की जा रही है. बैठक में सीएम हेल्पलाइन तथा टीएल पत्रों के निराकरण की विभागवार समीक्षा की जायेगी.

कलेक्टर ने वनाधिकार समिति की बैठकों के कारण बैठक में एसडीएम, जनपद के सीईओ तथा जिला पंचायत के अधिकारियों को शामिल न होने के निर्देश दिए हैं. बैठक में सभी जिला स्तरीय अधिकारी अनिवार्य रूप से उपस्थित रहेंगे. 

सीएम शिवराज / अधिकारी माइंडसेट कर लें! गरीब के अधिकार को मैं छिनने नहीं दूंगा, कलेक्टर एवं DFO सुन लें…


वनाधिकार दावे ऑनलाइन दर्ज करने के लिए कर्मचारी तैनात

रीवा 28 जून 2020. वनाधिकार अधिनियम 2006 के तहत दर्ज नये दावे तथा अमान्य किये गये दावे वन मित्र पोर्टल पर ऑनलाइन दर्ज किये जा रहे हैं. इन्हें तहसीलवार दर्ज करने के लिए कलेक्ट्रेट कार्यालय की आदिम जाति कल्याण शाखा में तैनात किये गये हैं. इनके द्वारा ग्राम स्तरीय समिति, खण्ड स्तरीय समिति तथा जिला स्तरीय वनाधिकार समिति से निराकृत वनाधिकार के दावों को दर्ज किया जा रहा है.

कलेक्टर इलैयाराजा टी ने जिला संयोजक आदिम जाति कल्याण विभाग को वनाधिकार के सभी दावे समय-सीमा में ऑनलाइन दर्ज कराने के निर्देश दिये हैं.

माइंडगेम: REWA के युवक ने GF के लिए ली निर्दोष की जान, फिर GF को छेड़ने वाले युवको के साथ किया ये..


छात्रवृत्ति के आवेदन 30 जून तक प्रस्तुत करें – अपर कलेक्टर

रीवा 28 जून 2020. आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा पात्र विद्यार्थियों को पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति तथा आवास सहायता योजना का लाभ दिया जाता है. इसके के लिए आवेदन पत्र दर्ज करने एवं इनके सत्यापन के लिए जनवरी माह तथा मार्च माह में दो बार समय सारणी निर्धारित की गयी थी. इसके बावजूद कई पात्र विद्यार्थियों के छात्रवृत्ति के आवेदन पत्र ऑनलाइन दर्ज नहीं हुये हैं.

अपर कलेक्टर श्रीमती इला तिवारी ने सभी शासकीय तथा अशासकीय महाविद्यालय के प्राचार्यो, मेडिकल कॉलेज के डीन तथा पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति के नोडल प्राचार्यों को 30 जून तक छात्रवृत्ति एवं आवास सहायता योजना के आवेदन पत्र पोर्टल पर ऑनलाइन दर्ज करने का अनुरोध किया गया है.

मध्यप्रदेश के लिए राहत की खबर, GST करदाताओं को मिली बड़ी छूट, पढ़िए

उन्होंने कहा है कि पात्र विद्यार्थियों के आवेदन पत्रों का सत्यापन करके छात्रवृत्ति एवं आवास सहायता योजना के प्रस्ताव आदिम जाति कल्याण विभाग में प्रस्तुत करें. समय सीमा में आवेदन पत्र प्रस्तुत न करने से यदि कोई पात्र विद्यार्थी छात्रवृत्ति से वंचित रहेगा तो इसकी व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदारी संबंधित प्राचार्य एवं नोडल अधिकारी की होगी.

रीवा / आज के सरकारी समाचार / 28 June, 2020 / Part-II


ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:  

FacebookTwitterWhatsAppTelegramGoogle NewsInstagram

Facebook Comments
Tagged