BIG NEWS: मध्यप्रदेश में जल्द होगी पुलिस की भर्ती, आदेश हुआ जारी, पुलिस के लिए बनेगा अलग अस्पताल

CORONA पॉजिटिव बंदियों को लेकर REWA आने वाले पुलिस की स्क्रीनिंग तक नहीं

रीवा सतना

CORONA पॉजिटिव बंदियों को लेकर REWA आने वाले पुलिस की स्क्रीनिंग तक नहीं

सतना. कोरोना ( CORONA) संक्रण के दौरान स्वास्थ्य सेवाएं कितनी बेहतर हैं इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि कोरोना ( CORONA) पॉजिटिव बंदियों को रीवा लेकर गए पुलिस के कोरोना ( CORONA) फाइटर्स का अब तक स्वास्थ्य परीक्षण नहीं कराया गया। चार दिन बीत जाने के बाद सेम्पलिंग तो दूर स्वास्थ्य महकमा ने स्क्रीनिंग तक नहीं की।

Lockdown: यात्री Train दौड़ाने की तैयारी शुरू, ये है गाइडलाइन

मौजूदा समय में पुलिस की कोरोना ( CORONA) फाइटर टीम सिविल लाइन क्षेत्र के होटल क्राउन में क्वारंटीन है।पता चला है कि टीम प्रभारी उप निरीक्षक कपूर त्रिपाठी के साथ आरक्षक मंगल सिंह, सतीश पटेल, वाहन चालक हीरालाल साकेत केन्द्रीय जेल से कोरोना ( CORONA) पॉजिटिव बंदियों को लेकर रीवा मेडिकल कॉलेज गए थे।

मई तक भयावह हो सकती है मध्यप्रदेश में कोरोना ( CORONA) संक्रमितों की संख्या

वहां से लौटने के बाद सभी को एहतियातन होटल में अलग अलग ठहराया गया है। ताकि १४ दिनों तक वहीं रहें और अगर संक्रमण की संभावना हो तो घर, परिवार के साथ समाज के लोगों का बचाव हो सके। जानकारों की मानें तो एेसे संवेदनशील मामले में स्वास्थ्य विभाग को तेजी से काम करने की जरूरत है। ताकि संक्रमण की आशंका भी हो तो संबंधित व्यक्ति के बचाव के उपाय किए जा सकें।

यहां सवाल उठ रहा है कि जो पुलिस इस संक्रमण के दौर में बिना अपनी जान की परवाह किए कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी है उसके प्रति इस तरह की लापरवाही सामने आई है तो भला समाज के बाकी हिस्सों में किस तरह से काम किया जा रहा होगा?
वर्जन…
“जब केई लक्षण समझ आएगा तो स्वास्थ्य विभाग जांच जरूर कगा। जिसने हथकड़ी लागई उसकी स्क्रीनिंग व सेम्पलिंग कराई गई है। बाकी स्टॉफ नजदीक नहीं गया।”
– रियाज इकबाल, पुलिस अधीक्षक

“सभी की स्क्रीनिंग कराई जाएगी। जरूरत पडऩे पर सेम्पलिग भी करेंगे। जो टीम पॉजिटिव बंदियों को छोडऩे गई थी उसकी सुरक्षा का ध्यान रखेंगे।”
– अशोक कुमार अवधिया, सीएमएचओ

Facebook Comments