रीवा में कोरोना का असर; जिले में 83 फ़ीसदी अपराध में कमी

रीवा में कोरोना और लॉकडाउन का असर; जिले में 83 फ़ीसदी अपराध में कमी

रीवा

रीवा में कोरोना और लॉकडाउन का असर; जिले में 83 फ़ीसदी अपराध में कमी

लॉकडाउन के बाद सिरमौर में दोहरी हत्या और रायपुर कर्चुलियान का गोलीकांड सबसे बड़े अपराध

रीवा। रीवा में कोरोना के चलते लॉकडाउन जहां पुलिस सड़कों पर चारों ओर मुस्तैद है, वहीं लोग घरों में कैद हैं। लोग घर से निकलने पर हिचकचा रहे हैं। जिले में अपराध के ग्राफ पर 83 फ़ीसदी की कमी आई है। लोग सड़कों पर कम निकल रहे हैं, जिसके चलते सड़क दुर्घटनाओं में भी काफी कमी देखी जा रही है। मारपीट और आबकारी के मामले ज्यादा हुए हैं। इसकी वजह है कि लोग घरों में हैं और परिवारिक विवाद के साथ फुर्सत में मदिरा न मिलने के चलते पैकारी जमकर हुई और इन पर कार्यवाहियां भी हुई हैं। पन्द्रह दिनों में हत्या और गोली चलने जैसी घटनाएं भी महज आधा दर्जन हुई हैं।

महाराष्ट्र के बाद मौत का सबसे ज्यादा आंकड़ा मध्यप्रदेश का, अब तक 453 कोरोना केस मिलें

जानकारी के अनुसार जिला लॉकडाउन हुए बीस दिन बीते हैं। अगर लॉकडाउन के इन 20 दिनों और लॉकडाउन के पहले के 20 दिनों की तुलना करके देखें तो अपराध में कमी साफ नजर आती है। लॉकडाउन के पहले वर्ष 2020 के जनवरी, फरवरी और मार्च के 113 दिनों में जिले के 30 थानों में करीब 2701मामले दर्ज हुए थे। वहीं लॉकडाउन के बीस दिन के भीतर यह आंकड़ा सैकड़ा के अंदर सिमट गया है। वहीं ज्यादातर लॉकडाउन के उल्लंघन के मामले दर्ज हुए हैं।

Lockdown: EMI की क़िस्त बैंक ने काट ली, ऐसे पा सकते हैं रिफंड

अपराध में आई 83 फीसद की कमी

लॉकडाउन के पहले बीस दिन में जहां 508 एफआइआर दर्ज हुई थी, वहीं लॉकडाउन के दौरान बीस दिन में जिले के सभी 30 थानों में करीब 90 प्रकरण ही दर्ज हुए हैं। प्रतिशत में तुलना करें तो बीस दिन में 83 प्रतिशत अपराध में कमी आई है। इसमें मारपीट, हत्या, चोरी ,आत्महत्या, आबकारी, और कुछ छिटपुट वारदात शामिल हैं। इसका कारण कोरोना लॉक डाउन के चलते शहर में जगह-जगह पुलिस का तगड़ा बंदोबस्त होने से शातिर अपराधियों के हौसले भी पस्त नजर आ रहे हैं। वाहनों को लेकर रोकथाम किए जाने से चेन स्नेचिंग की घटना नहीं हुई है। पुलिस की जगह-जगह पर नाकाबंदी को देखते हुए रातों में घूमने वाले आपराधिक किस्म के युवक फिलहाल भूमिगत हो गए हैं।

इस राज्य के मुख्यमंत्री ने कहा- अभी लॉकडाउन हटाना सही नहीं, किसानों को देंगे राहत

Facebook Comments