CORONA: Seal boundaries of seven districts of REWA-SHAHDOL division, increased vigilance

CORONA: REWA-SHAHDOL संभाग के सात जिलों की सीमाएं सील, बढ़ी सतर्कता

रीवा शहडोल सतना सिंगरौली सीधी

CORONA: REWA-SHAHDOL संभाग के सात जिलों की सीमाएं सील, बढ़ी सतर्कता

REWA-SHAHDOL : CORONA की संभावनाओं को देखते हुए विंध्य क्षेत्र में सख्ती बरती जा रही है। अब संभाग की सीमाएं सील कर दी गई हैं। शहर में कई प्वाइंट बनाए गए हैं। जहां अब स्वास्थ्य और नगर निगम की टीम के साथ पुलिस की टीम भी मौजूद रहेगी।

इन शर्तो के साथ खुलेगा LOCKDOWN, मध्यप्रदेश में ये होगा…..

REWA और SHAHDOL संभाग की सीमाएं REWA, SIDHI, SATNA,SINGRAULI ,SHAHDOL उमरिया,अनूपपुर की सीमाएं सील कर दी गई है। इसी के साथ उारप्रदेश, छाीसगढ़,बिहार की जो सीमाएं विंध्य क्षेत्र में मप्र की सीमा में लगती हैं,उन पर भी चौकसी बढ़ा दी गई है। अब किसी तरह का पास जारी नहीं होगा। मेडिकल और अन्य जरूरी सामग्रियों के परिवहन पर कोई प्रतिबंध नहीं रहेगा। सीधी में आज 545 लोगों की स्क्रीनिंग यहां आज यूआर एवं मेडिकल टीम द्वारा 545 नए लोगों की जांच की गई। गत दिवस तक 11171 लोगों की स्क्रीनिंग करने के आंकड़े जारी किए गए थे।

LOCKDOWN : CM SHIVRAJ ने MP के सभी कलेक्टर को दिए सख्त आदेश

सीधी जिले में कुल नॉन कॉन्टैट थर्मामीटरों मित्रों की संख्या सिर्फ 15 ही है। यहां बाहर से आए मजदूरों की संख्या 2997 चिन्हित की गई है जिनमें से 1647 सर्दी,खांसी से पीडि़त हैं। जिले में सर्दी खांसी के मरीजों के क्वॉरेंटाइन की संख्या 3406 हो गई है। यहां से कुल यहां 19 सैंपल भेजे गए थे जिनमें पांच की रिपोर्ट निगेटिव आई है। सीधी जिले में कुल राहत शिविरों की संख्या 25 बताई गई है, जिनमें 1035 प्रवासी मजदूर रह रहे हैं। रिपोर्ट के अनुसारी आज 4120 लोगों को नि:शुल्क खाना वितरित किए जाने का दावा किया गया है।

मध्यप्रदेश के वासियो मुझे माफ़ करना मै और पाबंदिया लगाने वाला हूँ : CM SHIVRAJ

जिला अस्पताल में 8056 की हुई जांच प्रदेश के अन्य जिलों एवं दूसरे प्रान्तों व विदेशों से आने वाले अब तक 8056 लोगो की स्की्रनिंग जिला अस्पताल में की गई है। जबकि अमरपाटन में 2433 , मैहर में 1720, मझगवां 1790, नागौद 1804, रामनगर 825, रामपुर बाघेलान 1454, उचेहरा 1647, एवं सोहावल में 21 मार्च से अब तक 874 लोगो की स्क्रीनिंग की गई है। बाहर से आ रहे श्रमिक SHAHDOL में दूर-दराज से आने वाले लोगों का सिलसिला नहीं थम रहा है।

SATNA में LOCKDOWN खोलने की तैयारी, इस तरह विचार विमर्श शुरू

इनमें ज्यादातर मजदूर वर्ग के हैं। जिनके पास कोई व्यवस्था न होने पर वापस लौट रहे हैं। पिछले एक सप्ताह में रायपुर, बिलासपुर, नागपुर सहित अन्य स्थानों से हजारों की तादाद में मजदूर वर्ग मुख्यालय  पहुंचे है। जिनमें से ज्यादातर ने पैदल ही सफर तय किया। इन मजदूरों के साथ उनके परिवार के अन्य सदस्य भी पैदल ही पूरा सफर तय किया।

इस दौरान कुछ नंगे पांव तो कुछ घिसी पिट्टी चप्पल पहनकर पूरा रास्ता तय किया। जिसके चलते कईयों के पैरो में छाले पड़ गए तो कई बीमार पड़ गए। गत दिनों नागपुर से SHAHDOL पहुंचे पडरा निवासी मदन कोल व उनके लगभग 19 साथियों ने बताया कि वहां से लगभग 10 दिन पहले पैदल ही निकले थे। रास्ते में जहां जैसी मदद मिलती गई उसी के भरोसे आगे बढ़ते गए। वहीं रायपुर से चलकर SHAHDOL पहुंचे सेजहाई निवासी अखिलेश सिंह, लालमन, राम प्रसाद व नीलेश सिंह ने बताया कि रायपुर मजदूरी करने गए थे।

वहां काम बंद होने के चलते घर के लिए पैदल ही निकल पड़े। इस बीच रास्ते में कुछ लोगों ने मदद की और भोजन व अन्य व्यवस्था कर दी। साथ ही कुछ दूर के लिए वाहन की भी व्यवस्था हो गई। लगभग छ: दिन के सफर के बाद वह SHAHDOL पहुंचे हुए है। सबको क्वारंटाइन में रखा गया है।

सतना में 16 सेपल की रिपोर्ट आना शेष

CORONA वायरस से संभावित संक्रमित 41 लोगो के सेपल जांच के लिए जिला अस्पताल में अब तक लिये गये है। जिनमें से 25 लोगो के सेम्पल जांच में निगेटिव पाये गए हंै। अभी 16 सेपलों की जांच रिपोर्ट आना शेष है। ताजा हेल्थ बुलेटिन में के अनुसार सतना में 21 मार्च से 6 अप्रैल तक विदेश एवं देश के अन्य प्रान्तों व म.प्र. के अन्य जिलों से आने वाले 12698 लोगो की स्की्रनिंग कराई जा चुकी है। आज की स्थिति में विदेश से आये 90 लोग अभी भी होम क्वारंटीन  में है जबकि 130 लोगो का वारंटाइन पीरियड समाप्त हो गया है।

Facebook Comments