रीवा में बढ़ रहा अपराध का ग्राफ, बहन के घर से लौट रहा युवक गायब

रीवा

रीवा। जिले में अपराध का ग्राफ दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है। मंगलवार को एक युवक के अपहरण की घटना प्रकाश में आयी है। सीधी निवासी युवक सोमवार को बोदाबाग स्थित अपने बहन के घर से अपने कार से वापस गांव जा रहा था, जो लापता हो गया और कार यूपी के चुनार में लावारिस हालात में मिली है। युवक के अपहरण व हत्या की आशंका जताई जा रही है। युवक का फोन भी बंद है। जानकारी के अनुसार संत बहादुर सिंह लाला पुत्र दिलराज सिंह (33) निवासी तेंदुआ नंबर 1 जिला सीधी रविवार को बोदाबाग में अपनी बहन के घर आया था।

संतबहादुर 23 जुलाई सोमवार को लगभग 11 बजे अपने जीजा निवासी अनिल सिंह गौरव ट्रेडर्स के घर से अपने गांव के लिए निकला था। जब वह देर तक घर नहीं पहुंचा और फोन भी बंद आ रहा था तो जीजा द्वारा युनिवर्सिटी थाना रीवा में सूचना दी गई है। युवक पता नहीं लगने पर खोजबीन में जुटे परिजनों ने टोल प्लाजों में लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगाला। बताया गया है कि रीवा से 10 किमी. दूर रीठी टोल प्लाजा में दोपहर 12 बजे युवक की लोकेशन मिली, जिसमें वह सीधी की ओर जा रहा है।

फुटेज में युवक ही कार चला रहा था। जबकि रात 1:47 कार जोगिनहाई टोल प्लाजा क्रास करती है। यहां प्राप्त फुटेज में कार कोई दूसरा चला रहा था। इसके बाद रात 2.32 बजे कार की लोकेशन हनुमना टोल प्लाजा में मिली। जो व्यति जोगनिहाई टोल प्लाजा में कार चला रहा था। वही हनुमना में भी कार चला रहा था। मंगलवार सुबह चार बजे कार उारप्रदेश के चुनार में खड़ी मिली। सूत्रों के अनुसार तीन युवक कार को सड़क किनारे खड़ा कर चले गए हैं। युवक कौन हैं इसका पता नहीं चल पाया है। जिस तरह कार पहले कार की लोकेशन अलग- अलग दिशाओं में मिली है और युवक का मोबाइल फोन बंद है, उससे अपहरण की आशंका बढ़ गई है। बताया गया है कि संत बहादुर की सीधी में हार्डवेयर की दुकान है।