रीवा: इतने प्रतिशत से कम हैं अंक, तो TRS कॉलेज में नहीं होगा एडमिशन, NSUI ने किया प्राचार्य का घेराव

रीवा सतना सिंगरौली सीधी

रीवा। विंध्य के सबसे बड़े महाविद्यालय टीआरएस कॉलेज में छात्र संगठन एनएसयूआई के द्वारा 60 प्रतिशत से कम अंक प्राप्त करने वाले छात्रों के एडमिशन के लिए प्राचार्य का घेराव किया गया है। दरअसल, हमेशा ही सवालों के घेरे में रहा शहर का सबसे बड़ा टीआरएस कॉलेज आज 60 प्रतिशत से कम अंक प्राप्त करने वाले छात्रों के एडमिशन को लेकर सुर्खियों में आ गया है।

दो दिनों पूर्व अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय के स्वर्ण जयंती समापन समारोह में शामिल होने आए मध्यप्रदेश कैबिनेट के उच्च शिक्षा मंत्री जयभान सिंह पवैया ने पत्रकारों के सवाल 60 प्रतिशत से कम अंक पाने वाले छात्रों के एडमिशन पर कहा था कि उनके लिए कॉलेज लेवल काउंसिलिंग की प्रक्रिया का इंतजार करना पड़ेगा तथा उनका एडमिशन किया जायेगा।

60 प्रतिशत से कम तो एडमिशन नहीं
ठाकुर रणमत सिंह महाविद्यालय (टीआरएस) के प्राचार्य डॉ सतेंद्र शर्मा का कहना है कि कॉलेज को उत्कृष्टता का दर्जा मिलने के बाद अब प्रशासनिक स्तर पर दबाव है कि 60 प्रतिशत से कम अंक पाने वाले छात्रों का एडमिशन ना लिया जाये।

वहीं छात्र संघ एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने इस बात का विरोध करते हुए आज प्राचार्य के खिलाफ धरना प्रदर्शन कर दिया तथा प्राचार्य कक्ष के सामने बैठकर प्राचार्य सतेंद्र शर्मा का घेराव कर दिया।

इस बीच एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने का कहना है कि धरना प्रदर्शन के दौरान प्राचार्य के द्वारा छात्रों के प्रति अपशब्द भाषा का प्रयोग किया गया है। हालांकि प्राचार्य ने इस बात को सिरे से नकार दिया है।