रीवा : खाकी वर्दी हुई ख़ाक, थाने में घुसकर युवको ने की पुलिस वालो की पिटाई

रीवा

रीवा। इधर पुलिस जहां दलित व गरीबों की एफआईआर नहीं लिख रही है। वहीं सत्ता से रसूख रखने वालों के आगे नतमस्तक भी है। यह वाकया मनगवां थाने का है जहां आधी रात फोरव्हीलर से आए लोगों ने थाने में न केवल हंगामा किया बल्कि पुलिसकर्मियों से छीना-झपटी एवं गाली-गलौज की और पुलिस मौन देखती रही।
बताया जा रहा है दो दिन पहले गुप्ता एवं ब्राह्मण परिवार के बीच विवाद हुआ था। इसी मामले में ब्राह्मण परिवार से सुभाष मिश्रा, राहुल मिश्रा, गोल्डी शुक्ला को पुलिस ने थाने में बैठाया था। इन्हें छुड़ाने के लिए रात में कार में चार लोग आए और उनको थाने से जर्बदस्ती ले जाने लगे। जिससे उनकी पुलिसकर्मी व थाने के संत्री से झड़प हो गई। संत्री ने एक युवक अजय मिश्रा निवासी नेहरू नगर को पकड़ लिया। बाकि तीन लोग कार में बैैठकर थाने से आराम से निकल गए। बाकि आरोपियों को पुलिस नहीं पकड़ पाई। जबकि मामले की पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है।

एक को लिया है हिरासत
इस घंटना को लेकर जहां थाना प्रभारी पूरे दिन जबाव देने से बचते रहे। वहीं एसडीओपी राकेश सिंह ने बताया कि दो गुटों के विवाद में पकड़े गए आरोपियों को छुड़ाने कार में लोग आए थे इनमें कुछ लोग शराब पीने के कारण थाने में हंगामा करने लगे। एक व्यक्ति ने ड्यूटी में तैनात संत्री ने पकड़ लिया है और शेष आरोपियों की तलाश जा रही है।

तीसरे दिन भी मासूम का नहीं चला पता
तीन दिन बाद भी मासूम का पता पुलिस नहीं लगा पाई है। जिसपर कांग्रेस ने एसपी को ज्ञापन सौंपा है। मऊगंज अंतर्गत ग्राम ढेरा से स्कूल गई 5 साल की गीताजंलि कचेर रहस्यमय ढंग से लापता हो गई है। जिसका सुराग पुलिस नहीं लगा पाई है। इस मामले में पुलिस ने संदेहियों को हिरासत में लेकर पूछतांछ की है लेकिन अभी तक सफलता नहीं मिली। वहीं गुरुवार को कविता पांडेय कार्यकारी अध्यक्ष महिला कांग्रेस ने एसपी को ज्ञापन सौंपकर मासूम की शीघ्र तलाश करने को लेकर चर्चा की। इस पर एसपी ने आश्वासन दिया है वह इस मामले की स्वत: मॉनीटरिंग कर रहे हैं।