रीवा : स्कूल भवन निर्माण में बाधा डालने वालों पर होगी जेल भेजने की कार्यवाही – कलेक्टर

रीवा

रीवा।।स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा हाई स्कूल भवनों के निर्माण के लिये राशि मंजूर की गई है। इसके लिये पीआईयू विभाग को एजेंसी बनाया गया है। कलेक्टर श्रीमती प्रीति मैथिल नायक ने हनुमना के पास ग्राम चरैया तथा नईगढ़ी के समीप ग्राम शिवराजपुर में मौके का निरीक्षण कर हाईस्कूल भवन निर्माण तत्काल प्रारंभ कराने के निर्देश दिये। उन्होंने मौके पर उपस्थित तहसीलदार को निर्देश देते हुए कहा कि शासकीय भूमि की तत्काल माप कराकर निर्माण एजेंसी को कार्य प्रारंभ करने के लिये भूमि उपलब्ध करायें। शासकीय भूमि पर किये गये अवैध अतिक्रमण को तत्काल हटाने की कार्यवाही करें। हाईस्कूल भवन निर्माण में बाधा डालने वालों पर जेल भेजने की कार्यवाही करें।

कलेक्टर ने चरैया में माध्यमिक शाला भवन परिसर का निरीक्षण किया। इसी परिसर में नवीन हाईस्कूल भवन का निर्माण मंजूर किया गया है। कलेक्टर ने मौके पर उपस्थित राजस्व अमले से भूमि की माप करायी। उन्होंने परिसर में स्थित जीर्ण-शीर्ण प्राथमिक शाला भवन तथा अन्य भवनों को गिराकर उनके स्थान पर नया भवन बनाने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने कार्यपालन यंत्री को दो दिवस में निर्माण कार्य प्रारंभ करके फोटोग्राफ सहित रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने हाईस्कूल में उपलब्ध खेल सामग्री का समुचित भण्डारण न करने तथा विद्यार्थियों को उपलब्ध न कराने पर प्रभारी प्राचार्य राजमणि साकेत को कड़ी फटकार लगायी। प्राचार्य श्री साकेत शाला परिसर में स्थित अधूरे भवन के संबंध में भी संतोषजनक जानकारी नहीं दे पाये।

कलेक्टर ने इसके बाद शिवराजपुर में माध्यमिक शाला परिसर का निरीक्षण किया। परिसर में हाईस्कूल भवन निर्माण के लिये पर्याप्त भूमि उपलब्ध है। परिसर में दो व्यक्तियों द्वारा शासकीय भूमि पर कब्जा करके अवैध निर्माण हाल ही में किया गया है। कलेक्टर ने तहसीलदार तथा थाना प्रभारी को शासकीय भूमि से अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि भावी पीढ़ी को शिक्षा का अवसर देने के लिये स्कूलों का निर्माण किया जा रहा है। इनमें बाधा डालने वाले निहित स्वार्थी तत्वों पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी। कलेक्टर ने आम जनता से भी स्कूल भवन निर्माण में सहयोग की अपील की। निरीक्षण के समय संबंधित तहसीलदार, थानाप्रभारी, कार्यपालन यंत्री पीआईयू वसीम खान तथा अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।