एएसआई की रीवा – चिरमरी ट्रेन से कटकर मौत, सिर से गुजरी ट्रेन, बहन के घर से टहलने निकले थे..।Rewa News

रीवा

रीवा. भोपाल के खजूरी थाना में पदस्थ रहे एएसआइ अनिल शुक्ला हाल मुकाम चिरहुला कॉलोनी रीवा की सुबह रीवा-चिरमरी सवारी गाड़ी में कटकर मौत हो गई। प्लेटफार्म क्रमांक-2 के पास संटिग में टे्रन खड़ी होने के दौरान एएसआइ इंजन के नीचे आ गए थे। शहर के समान मोहल्ला स्थित अपनी बहन के घर से वह सुबह टहलने निकलने थे। परिजनों ने बताया कि कुछ दिनों से वह तनावग्रस्त थे और उनका इलाज भी चल रहा था। पुलिस ने मर्ग कायम कर विवेचना प्रांरभ कर दी है।

रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म क्रमांक-2 से निकलकर रीवा-चिरमिरी गाड़ी संटिग में खड़ी हो रही थी। इसी बीच अचानक एएसआइ इंजन के नीचे आ गए। दो इंजन होने व कोहरे के कारण इंजन का पायलट उनको देख नहीं पाया और इंजन एएसआइ के सिर से गुजर गया। जिससे घटना स्थल पर ही उनकी मौत हो गई। घटना की सूचना लोगों ने डॉयल 100 को दी। साथ ही डिप्टी एसएस ने जीआरपी को भी घटना की जानकारी दी।

स्टेशन में हुए इस हादसे से हड़कंप मच गया। घटना के कुछ देर बाद मृतक के बड़े भाई उनको तलाशते हुए स्टेशन में पहुंचे। उनको इसकी जानक ारी हुई तो वे स्थल पर पहुंचे। जहां उन्होंने भाई अनिल शुक्ला पिता लल्लू प्र्रसाद (45) निवासी ग्राम हिरौल जिला रीवा हाल मुकाम चिरहुला कॉलोनी का शव देखकर बिलख पड़े। इसकी जानकारी मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया। जीआरपी ने मर्ग कायम कर पीएम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है।

सात दिन पहले आए थे रीवा
परिजनों ने बताया कि दो माह पहले अनिल शुक्ला का सड़क दुर्घटना में हाथ टूट गया था। साथ ही सिर में भी चोट आई थी। इलाज के बाद उन्होंने 29 दिसम्बर को वापस भोपाल जाकर ड्यूटी ज्वाइन की थी। लेकिन इसके बावजूद वह पूर्णत: स्वास्थ्य नहीं थे, बल्कि तनाव बढ़ता जा रहा था। इसके चलते 14 फरवरी को परिजन इलाज के लिए रीवा लाए थे।

सुबह ही पहुंचे थे बहन के घर
इलाज के दौरान वह पिछले दो दिनों से अपने बोदाबाग स्थित सुसराल में थे। शनिवार की सुबह 4 बजे समान में रहने वाली बहन के घर पहुंचे। इसके बाद सो गए। रविवार की सुबह 6 बजे बहन से सामने टहलने जाने की बात कहकर घर से निकले थे। काफी देर तक घर नहीं लौटने पर परिजनों ने आसपास तलाश किया तो नहीं मिले और फोन भी नहीं उठा। बड़े भाई उन्हें तलाशते रेलवे स्टेशन पहुंचे तो एक व्यक्ति के टे्रन से काटने की सूचना मिली, जाकर देख तो भाई का शव पड़ा था।

Facebook Comments