जेलर ने प्रहरी को पीटा, थाने में शिकायत : REWA NEWS

रीवा

रीवा। केन्द्रीय जेल रीवा में पदस्थ आरक्षक भयाक्रांत हैं। वहां पदस्थ जेलर द्वारा सोमवार को एक आरक्षक पर हमला कर दिया गया, जिससे वह घायल हो गया। घायल आरक्षक द्वारा मामले की शिकायत थाने में दर्ज कराई गई है। बताया गया है कि जेलर द्वारा आरक्षक को गालियां दी जा रही थीं, जिस पर आरक्षक ने उन्हें मना किया। इससे गुस्साए जेलर ने आरक्षक की लात घूंसे से पिटाई कर दी। इस घटना के चलते वहां पदस्थ आरक्षकों में भय व्याप्त हो गया है। मिली जानकारी के अनुसार जेलर रविशंकर सिंह जेल के आरक्षक कर्मचारी अक्षय सिंह चंदेल के ऊपर उस समय टूट पड़े जब वह उन्हें अश्लील गालियां देने के लिए मना कर दिया। ज्ञात हो कि पीडि़त आरक्षक लगभग ढाई वर्ष से प्रहरी के रूप में अपनी सेवा दे रहा है । उसने बातचीत के दौरान बताया कि सोमवार की सुबह वह अपनी ड्यूटी पर था तभी उससे एक छोटी सी गलती हुई थी जिसकी जानकारी जेलर को उसके द्वारा खुदी दी गई और क्षमा भी मांग लिया था। लेकिन जेलर उसे क्षमा करने के बजाय भद्दी-भद्दी गालियां देने लगे। मना करने पर वह आरक्षक के ऊपर बरस पड़े और उसकी लात घूसो से पिटाई कर दी।

पीडि़त आरक्षक ने यह ाी बताया कि उसके द्वारा बार-बार क्षमा करने की गुहार लगाई गई यहां तक कि गलती होने पर सस्पेन्ड करने की कार्रवाई करने के लिए ाी निवेदन किया लेकिन जेलर कुछ सुनने को तैयार नहीं हुए और उसके साथ मारपीट करते रहे। बताया कि जेलर ने खुद तो पिटाई किया ही वहां खड़े बंदियों से भी मारो साले को कहकर पिटाई करने के लिए बोले। मारपीट से उसके गर्दन व सीने एवं सिर में चोटें आई हैं। आरक्षक द्वारा इस मामले की लिखित शिकायत जेल अधीक्षक से की है। साथ ही एडिशनल एसपी शिव कुमार वर्मा से ाी की है एवं उचित कार्यवाही करने की माग की है। अधिकारियों से की गई शिकायत के बावजूद ाी कोई इसे गंभीरता से नहीं ले रहा और न ही किसी प्रकार की कार्रवाई की जा रही है जिससे पीडि़त आरक्षक के मन में भय व्याप्त हो गया है। घटना के संबंध में जेलर से संपर्क साधने का प्रयास किया गया लेकिन नहीं हो पाया।

Facebook Comments