रीवाः सेमरिया पुलिस ने जिला पंचायत अध्यक्ष अभय मिश्र समेत 4 को किया गिरफ्तार, फिर जमानत पर छोड़ा

रीवा

रीवा। सेमरिया पुलिस द्वारा जिला पंचायत अध्यक्ष रीवा समेत 4 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। बाद में उन्हे जमानत पर रिहा भी कर दिया गया।

मिली जानकारी के अनुसार शनिवार को जब जिला पंचायत अध्यक्ष अभय मिश्रा, लल्लू सिंह, लाला खान और भागीरथी शुक्ला जब सेमरिया में थें तब उन्हे पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया था। थाना प्रभारी के अनुसार चारों को जमानत पर कुछ ही देर बाद रिहा भी कर दिया गया।

बता दें 18 जून की सुबह सेमरिया थाना अंतर्गत अकौनी गांव में 23 वर्षीय रजौल कोल पिता मोहन कोल का शव पेंड़ पर लटकता मिला था, जिस पर परिजनों ने युवक की हत्या का आरोप लगाया था। जब पुलिस शव को पेड़ से उतारने पहुंची तब स्थानियों ने इसका विरोध किया। मामला बढ़ता देख अकौनी गांव में नेताओं का जमावड़ा होने लगा, अभय मिश्रा, लल्लू सिंह, लाला खान और भागीरथी शुक्ला भी घटना स्थल पहुंच गए। पुलिस के अनुसार नेताओं के आने के बाद से गांव में हंगामा होने लगा, आक्रोशित लोगों ने थाना प्रभारी सुनील गुप्ता समेत पुलिस कर्मियों पर हमला बोल दिया। पुलिस से मारपीट की गई। दो दिनों तक शव का अंतिम संस्कार नहीं करने दिया। परिजनों का कहना था कि पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर रही है। कई दिनों तक हंगामा चला। राजनैतिक पार्टियों ने गांव में डेरा जमा लिया।

वहीं पुलिस ने आरोप लगाया कि जिला पंचायत अध्यक्ष के इशारे पर ही उनपर हमला हुआ है, जिस पर हमला करने के आरोप में सेमरिया पुलिस ने अभय मिश्रा समेत कई लोगों को आरोपी बनाते हुए धारा 353, 394, 332, 186, 109, 104, 120बी, 147 और 149 के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया था। प्रकरण दर्ज होने के उपरांत सभी फरार हो गए, इस बीच अभय मिश्रा की देवास में गिरफ्तारी की खबर भी आई। बाद में अभय मिश्रा समेत कई लोगों ने अग्रिम जमानत भी ले ली थी। इसी मामले को लेकर शनिवार को सेमरिया पुलिस ने अभय मिश्रा के साथ लल्लू सिंह, लाला खान और भागीरथी शुक्ला को गिरफ्तार किया एवं जमानत पर रिहा भी कर दिया।