सतना-रीवा रेलखंड में चलेगी एम्बुलेंस

रीवा सतना

सतना। रेल कर्मचारियों की सुविधा के लिए रेलवे द्वारा सतना-रीवा रेलखण्ड के बीच हर रोज एम्बुलेंस चलाएगा। एम्बुलेंस चलाने का उद्देश्य सेक्शन में कार्य कर रहे रेल कर्मचारियों व उनके परिवार के सदस्योंं को चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराना है। गंभीर बीमारी होने पर कर्मचारियों व उनके परिवार के सदस्यों को इमरजेंसी सेवाएं भी दी जाएंगी। एम्बुलेंस सेवा के लिए रेलवे के डॉक्टर ने कई एम्बुलेंस संचालकों से एस्टीमेट भी लिया है।

आसानी से मिलेगा इलाज
रेलवे प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में पदस्थ डॉ. दीपक झारिया माह में 2 दिन रीवा और सप्ताह में गुरुवार को मैहर और बाकी समय सतना रेलवे प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में चिकित्सकीय सुविधा उपलब्ध कराते हैं। सतना-रीवा रेल सेक्शन में कार्यरत कर्मचारियों व उनके परिवार के सदस्यों की तबियत खराब होती है तो रेलवे अस्पताल सतना व बाहर इलाज कराना पड़ता है। कई बार समय पर इलाज नहीं मिलने से तबियत और खराब हो जाती है। अब हर रोज सतना-रीवा रेलखण्ड के सभी स्टेशनों पर मेडिकल स्टॉफ के साथ एम्बुलेंस पहुंचेगी, जिससे कर्मचारियों और उनके परिवारों को आसानी से इलाज मिल सकेगा।

ये भी होंगे साथ में
रेलवे द्वारा किराए से लिए जाने वाले एम्बुलेंस में 2 लोगों का मेडिकल स्टॉफ रहेगा, जिसमें से एक डॉक्टर और एक फार्मासिस्ट शामिल हैं। इतना ही नहीं इस एम्बुलेंस में सभी प्रकार की दवाओं के साथ ऑक्सीजन की सुविधा भी रहेगी। अगर कोई कर्मचारी की तबियत गंभीर होती है तो उसे इसी एम्बुलेंस से नजदीकी अस्पताल सतना-रीवा में भर्ती कराया जा सकेगा।

500 कर्मचारियों को मिलेगा लाभ
सतना-रीवा रेलखण्ड के बीच सभी रेलवे स्टेशनों में करीब पांच सौ रेलवे कर्मचारी विभिन्न पदों में कार्यरत हैं। इन्हीं कर्मचारियों व उनके परिवार के सदस्यों की सुविधा के लिए रेलवे द्वारा एम्बुलेंस सेवा शुरू करने की तैयारी की जा रही है। जिससे कर्मचारियों व उनके परिवार के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मिल सकें।

इनका कहना है
रेल कर्मचारियों को चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध कराने के लिए जबलपुर मंडल द्वारा एम्बुलेंस सुविधा शुरू कराने के लिए एस्टीमेट मांगा गया है। मंडल से स्वीकृत मिलने के बाद जल्द ही सुविधा प्रारंभ कर दी जाएगी।
डॉ. दीपक झारिया प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र रेलवे, सतना