रीवा: आकाशीय बिजली गिरने से 4 की मौत, ऐसा न करते तो शायद बच जाते...

MP के इस जिले में आकाशीय बिजली गिरने से 4 की मौत, ऐसा न करते तो बच जाते…

मध्यप्रदेश रीवा

रीवा। बुधवार की सांयकाल अचानक खराब मौसम के बीच जिले में आकाशीय बिजली का कहर लोगों पर टूटा। बारिश से बचने के लिए लोगों ने जिस पेड़ का सहारा लिया था वहीं उनका काल बन गया। विभिन्न थाना क्षेत्रों में आकाशीय बिजली की चपेट में आने से चार लोगों काल के गाल में समा गये। वहीं चार लोग बुरी तरह झुलस गये जिनको अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पेड़ के नीचे छिपी थी महिला
शाहपुर थाना के ग्राम घरबरा निवासी सोनिया साहू पति सूरजलाल 50 वर्ष बुधवार को बकरियां चराने गई थी। गांव से करीब एक किमी दूर वह बकरियां चरा रही थी। सांयकाल बारिश से बचने के लिए महिला पेड़ के नीचे छिप गई। उसी पेड़ में आकाशीय बिजली गिरी जिसकी चपेट में आने से महिला की मौत हो गई। बारिश थमने पर स्थानीय लोगों ने महिला को मृत अवस्था में पड़े देखा जिसकी सूचना परिजनों को दी।

इस दौरान पुलिस ने मौके पर पहुंच गई जिसने घटनास्थल का निरीक्षण कर शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवा दिया। वहीं आकाशीय बिजली गिरने से वृद्ध की मौत हो गई। राजबहोर पटेल 65 वर्ष बुधवार की दोपहर खेतों की जुताई करवा रहे थे। बारिश होने पर वे पेड़ के नीचे खड़े थे जिसमें आकाशीय बिजली गिरने से उनकी मौत हो गई।

पत्ता तोडक़र लौट रही युवती की आकाशीय बिजली गिरने से मौत

तीसरी घटना हनुमना थाना के टटिहरा में हुई। गांव की गोलू कोल पिता बहादुर (19) बुधवार को परिवार के अन्य लोगों के साथ जंगल में पत्ते तोडऩे गई थी। सांयकाल अचानक बारिश होने लगी जिससे परिवार के लोग वापस घर के लिए चल दिये। थोड़ा आगे आते ही आकाशीय बिजली गिरी जिससे पीछे चल रही युवती उसकी चपेट में आ गई। जब तक परिजन उसे अस्पताल ले जाने की व्यवस्था कर पाते तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। किसी तरह परिजन शव को लेकर गांव आये और रात में थाने आकर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने शव को मर्चुरी में रखवा दिया है।

नईगढ़ी में आम के पेड़ के नीचे छिपा किशोर आया चपेट में
बुधवार की सांयकाल आकाशीय बिजली की चपेट में आये किशोर की मौत हेा गई। नईगढ़ी कस्बा निवासी सुमित जायसवाल 15 वर्ष बुधवार की सांयकाल आंधी आने पर बगीचे में आम बिनने के लिए गया था। साढ़े चार बजे अचानक बारिश होने लगी तो वह पेड़ के नीचे खड़ा हो गया। उसी दौरान पेड़ में आकाशीय बिजलीी गिरी जिसकी चपेट में आने से किशोर की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। परिजनों ने पेड़ के नीचे उसका शव पड़े देखा। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई जिसने शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवा दिया। नईगढ़ी कस्बे में अभी तक आकाशीय बिजली गिरने की आधा दर्जन से अधिक घटनाएं हो चुकी है जिसमें ती लोगों की मौत हो चुकी है जबकि दर्जन भर से अधिक लोग घायल हुए है।

मऊगंज के पाडऱ में चार झुलसे

आकाशीय बिजली की चपेट में आने से चार लोग झुलस गए, जिनको इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया है। मऊगंज थाना के पाडऱ निवासी एक परिवार के चार लोग बुधवार शाम खेत में काम कर रहे थे। बारिश होने पर चारों लोग एक पेड़ के नीचे छिप गए। इस दौरान पेड़ के समीप स्थित दूसरे पेड़ में आकाशीय बिजली गिरी जिसके झटके से चारों लोग अचेत हो गए। घटना के बाद अफरा-तफरी का माहौल निर्मित हो गया। स्थानीय लोगों की मदद से घायलों को उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया। घायलों में गोविन्द लोनिया 55 वर्ष, गुडिय़ा लोनिया पति बालेश (25), काला लोनिया पिता बालेश (3), सुखमन लोनिया पिता गोविन्द लोनिया शामिल है। घायलों की हालत खतरे से बाहर है।