रीवा : लोकायुक्त टीम ने राजस्व निरीक्षक को घूस लेते रंगे हाथ दबोचा

रीवा

रीवा। राजस्व विभाग में छोटे-बड़े अधिकारी सभी भ्रष्टाचार में लिप्त हैं। यही वजह है कि लगातार लोकायुक्त की टीम राजस्व विभाग में पदस्थ पटवारी, राजस्व निरीक्षक जैसे बड़े पद में बैठने वाले अधिकारियों को घूस लेते रंगे हाथ पकड़ रही है। मंगलवार को त्योंथर तहसील में राजस्व निरीक्षक के पद पर पदस्थ राजकरण पाण्डेय उम्र 56 वर्ष निवासी ग्राम शिवपुर पाण्डेन टोला पोस्ट चौखण्डी थाना पनवार को लोकायुक्त की टीम ने 15सौ रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथ ट्रैप कर लिया।

मिली जानकारी के अनुसार फरियादी कई दिनों से नक्शा तरमीम कराने के लिए विभाग के चक्कर काट रहा था। मगर बिना पैसे दिए फरियादी का काम नहीं किया जा रहा था। ऐसे में मौकापरस्त राजस्व निरीक्षक राजकरण पाण्डेय ने फरियादी विद्याकांत शुक्ल निवासी चाकघाट से नक्शा तरमीम की एवज में 15सौ रुपए की मांग की।

जिसके बाद विद्याकांत शुक्ल ने लोकायुक्त से इस बात की शिकायत की। राजस्व निरीक्षक के भ्रष्टाचार में लिप्त होने की पुष्टि करने के बाद लोकायुक्त टीम ने शिकायतकर्ता को राजकरण पाण्डेय के पास 15सौ रुपए लेकर जाने के निर्देश दिए। मंगलवार को जब शिकायतकर्ता ने राजस्व निरीक्षक के घर जाकर उसे 15सौ रुपए घूस दिए, उसी दौरान लोकायुक्त की टीम वहां पहुंच गई। टीम को देखते ही राजकरण पाण्डेय भौचक्का रह गया। तभी लोकायुक्त टीम ने 15सौ रुपए घूस लेते राजस्व निरीक्षक को धर दबोचा।

कई दिनों से भटक रहा था फरियादी

बताया गया है कि नक्शा तरमीम करने की एवज में त्योंथर तहसील में पदस्थ राजस्व निरीक्षक राजकरण पाण्डेय, विद्याकांत शुक्ल से 15सौ रुपए की मांग कर रहा था। जिसके बाद लोकायुक्त की टीम ने घूस लेते देख राजस्व निरीक्षक को हिरासत में ले लिया। लोकायुक्त टीम  में निरीक्षक हितेन्द्रनाथ शर्मा के नेतृत्व में लोकायुक्त उप पुलिस अधीक्षक बीके पटेल, प्रधान आरक्षक विपिन त्रिवेदी, आरक्षक प्रेम सिंह, शाहिद खान, अजय पाण्डेय, सुजीत साकेत सहित 15 सदस्य मौजूद रहे।  बताया गया है कि राजस्व निरीक्षक पर भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 7, 13(1)डी, 13(2) लगाई गई है।

नक्शा तरमीम करने को लेकर राजस्व निरीक्षक फरियादी से 15सौ रुपए की मांग कर रहा था। विभाग के पास शिकायत आने के बाद मामले की पुष्टि की गई और राजस्व निरीक्षक को घूस लेते रंगे हाथ पकड़ लिया गया। कार्रवाई जारी है।
हितेन्द्रनाथ शर्मा, लोकायुक्त निरीक्षक