रीवा : बीए की छात्रा ने आत्महत्या करने से पहले लिखा दिल दहला देने वाला सुसाइड नोट, जरूर पढ़िये

रीवा

रीवा। शहर के खुटेही स्थित क्षीर सागर काम्लेक्स के निजी छात्रावास में बीए की छात्रा प्रिया सिंह परिहार ने गुरुवार की दोपहर फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया। घटना स्थल में पुलिस को सुसाइड नोट मिला है। जिसमें छात्रा नौकरी नहीं मिलने से थक कर यह कदम उठाने की बात कही है। साथ ही प्रेम प्रसंग की बात कबूलते हुए लिखा है पापा आप जैसे मां-बाप हर बेटी को मिलें लेकिन मेरी जैसी बेटी किसी को नहीं मिले। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल की और पंचनामा तैयार किया। इसके बाद शव का पोस्टमार्टम उपरांत परिजनों को सौंप दिया है।

बताया जा रहा दोपहर १२ बजे से पहले कुछ देर तक वह अपनी सहेलियों के साथ रस्सी कूद रही थी। इसके बाद वह अचानक कमरे में चली गई। इसके बाद सहेलियों ने प्रिया के रुम का दरवाजा खटखटाया लेकिन उसने दरवाजा नहीं खोला। रोशनदान से देखा तो वह फंासी पर लटकी हुई थी। इसकी सूचना तत्काल उन्होंने पुलिस को दी। बताया जा रहा है कटरा स्थित कोनिया गांव की रहने वाली प्रिया यहां बीए प्रथम वर्ष में पढ़ाई कर रही थी। पढ़ाई के साथ वह काम की तलाश भी कर रही थी, लेकिन लाख प्रयासों के बावजूद उसे काम नहीं मिला। इस कारण वह उदास रहती थी। इस संबंध में अक्सर वह सहेलियों से भी बात करती थी। पुलिस ने इस मामले सहेलियों के बयान दर्ज कर लिए हंै। वहीं मौके पर एफएसएल टीम ने भी निरीक्षण किया है

खुद को बताया ऐसा

छात्रा ने डायरी में लिखे सुसाइड नोट में लिखा है कि वह अपनी मर्जी से यह कदम उठा रही है। लिखा-मेरी मौत के लिए मैं स्वंय जिम्मेदार हूं। लाख कोशिश के बाद भी नौकरी नहीं मिल पाने से मैं थक गई हूं। इस कदम लिए मम्मी-पापा मुझे माफ कर दें।

नहीं मिल रहा ईश्वर का साथ

आत्म हत्या के सुसाइड नोट में पिता को बेटी ने बताया कि भगवान भी उसका साथ नहीं दे रहे है। अपनी तरफ से पूरी कोशिश की। आप जैसे मा बाप हर बेटी को मिले और हर जन्म मैं आपकी बेटी बनी। लेकिन मेरी जैसी बिटिया किसी मा बाप को नहीं मिले।