रीवा : दबंगो को नहीं किसी का डर, पिता-पुत्र के ऊपर प्राणघातक हमला

रीवा

रीवा। पीडि़त द्वारा प्रताडि़त करने की शिकायत थाना में दर्ज कराई गई, लेकिन पुलिस ने आरोपियों को बचाते हुए साधारण मामला दर्ज कर अपनी जवाबदारी से पल्ला झाड़ लिया। जिसके चलते आरोपियों के हौसले बुलंद हुए और आरोपियों ने वृद्ध के दोनों पैर तोड़ दिए। पीडि़त ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस अधीक्षक ने मामले की जांच करा कर आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही का आश्वासन दिया है। मिली जानकारी के अनुसार राज बहोर जयसवाल पिता मथुरा जयसवाल निवासी ग्राम शिवपुरवा नेबुआ थाना लौर के पिता मथुरा जयसवाल के साथ राम कुमार जयसवाल, मनीष जयसवाल ,बालेंद्र जयसवाल ,जमुना जयसवाल ने 3 नवंबर को पिता-पुत्र के ऊपर प्राणघातक हमला किया था, जिसमें आरोपी मनीष के द्वारा लोहे के रॉड से हमला किया गया। जिसमें पिता और पुत्र दोनों को चोटें आईं। पुत्र के ऊपर धारदार हथियार से वार किया गया था।

पुत्र को पिटता देख पिता मथुरा जयसवाल बचाने पहुंचा था तो आरोपियों ने उसे भी नहीं बशा और लाठी-डंडों से हमला कर दिया था जिसमें मथुरा जयसवाल के दोनों पैर पूरी तरह से जमी हो गए। दोनों घायलों को परिवार के लोगों ने उपचार के लिए संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया और लौर थाने में शिकायत दर्ज कराई, पीडि़त ने आरोप लगाया कि पुलिस 294, 323 ,506 की धारा लगाई थी जिसके चलते आरोपियों के हौसले और बुलंद है और आरोपी जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। पीडि़त ने बताया कि आरोपियों के द्वारा रास्ता रोककर मारपीट की जाती है। पीडि़त की शिकायत पर पुलिस अधीक्षक ने जांच कर कड़ी कार्यवाही का आश्वासन दिया है ।

Facebook Comments