रीवा : 50 घंटे के बाद शेफ लता को लगी थकान, फिर हुआ ये….

Rewa
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

रीवा। लांगेस्ट कुकिंग मैराथन में तीसरे दिन भी लता टंडन के शरीर में कुछ समय के लिए थकान महसूस हुई। वह कुछ नर्वस होने लगी थी लेकिन उनके साथ मौजूद लोगों ने उत्साह बढ़ाने के लिए नाच-गाना शुरू किया, जिसमें वह भी थिरकने लगीं और अपने अपने काम में जुट गईं। इसके बाद पूरी ऊर्जा के साथ काम पर जुटी रहीं।

शहर के लोग उनका उत्साह बढ़ाने के लिए सुबह से ही पहुंचते रहे। उन्होंने लगातार 72 घंटे तक भोजन पकाने का टारगेट रखा है। तीन सितंबर को सुबह नौ बजे से भोजन पकाने की शुरुआत की थी। लगातार 15 घंटे तक भोजन बनाते-बनाते शरीर में थकावट महसूस हुई तो उन्होंने पहला ब्रेक रात्रि सवा बारह बजे लिया। जिसमें 25 मिनट तक आराम करने के बाद वह फिर से जुटीं और पूरी रात लगातार भोजन पकाती रहीं। भोर में 5.26 बजे दूसरा ब्रेक पांच मिनट का लिया। इसके बाद 9.31 बजे तीसरा ब्रेक लिया। इसमें एक घंटे तक उन्होंने आराम किया।

सुबह से ही लोगों की भीड़ जुटने लगी थी, सभी ने उनकी हौसला अफजाई की, जिससे दूसरे दिन रात्रि 12 बजे तक पूरी ऊर्जा के साथ वह काम पर जुटी रहीं। गुरुवार को भी सुबह कुछ समय के लिए थकान मिटाने ब्रेक लिया और बाद में फिर जुट गईं। इनका भोजन पकाया जाना इनदिनों प्रमुख चर्चा का विषय बना हुआ है। लोग पूरे परिवार के साथ यह देखने पहुंच रहे हैं कि आखिर किस तरह से वह इतने लंबे समय तक मेहनत करती जा रही हैं। यह देखने वालों में प्रमुख रूप से शहर के कई जनप्रतिनिधि, अधिकारी, व्यापारी, युवा, छात्र एवं अन्य शामिल रहे।

– ये भी लगातार जागते रहकर दे रहे साथ
शेफ लता टंडन के साथ पूरे दिन के साथ ही पूरी रात सहयोग देने के लिए कई लोग जुटे हुए हैं। जिसमें उनके भाई अमित डिगवानी, पति मोहित टंडन, लंदन से आई उनकी दोस्त डॉ. नेहा अग्रवाल, ऋतु सरदार, सुमित डिगवानी, अमित खत्री, आकांक्षा मिश्रा, गुड्डू बनारसी, ऋषि सहित अन्य करीब आधा दर्जन लोग पूरा साथ दे रहे हैं। वहीं जूरी मेंबर भी पूरे समय निगरानी रख रहे हैं।

– दस हजार से अधिक लोगों ने लिया प्रसाद
गिनीज बुक आफ वल्र्ड रिकार्ड में नाम दर्ज कराने के लिए लगातार 72 घंटे तक भोजन पकाकर अमेरिका का रिकार्ड तोडऩे के लिए शेफ लता टंडन भोजन पका रही हैं। तीन दिनों में करीब दस हजार से अधिक लोगों के भोजन किए जाने का अनुमान है। जो भोजन वह पका रही हैं, वह साईं के प्रसाद के रूप में वितरित किया जा रहा है। लता के पति मोहित टंडन ने बताया कि एक और रसोई चल रही है, ताकि बिना प्रसाद के कोई वापस नहीं जाए। अब तक भोजन में उन्होंने हलुआ, कढ़ी, चावल, दाल, सेंडविच, पोहा, तहरी, चावल की खीर, पकौड़े आदि बनाए हैं।

– खुद जूस और सलाद ले रहीं लता
लगातार भोजन पकाने के साथ ही नींद नहीं आए और थकान भी नहीं लगे, इसके लिए पूर्व से तैयारी के मुताबिक लता टंडन जूस और सलाद का सेवन कर रही हैं। वहीं चने एवं अन्य डाइट के अनुसार ले रही हैं।

– कल सत्यापन के लिए आएंगी टीम
भोजन पकाने के मामले में सबसे अधिक समय तक लगातार काम करने का सत्यापन करने के लिए 6 सितंबर को इंडिया बुक आफ रिकार्ड और एशिया बुक आफ रिकार्ड की टीमें आएंगी जो पूरी व्यवस्थाओं का मूल्यांकन करने के बाद आधिकारिक रूप से यह घोषणां करेंगी कि इन्होंने लंबे समय तक लगातार भोजन पकाया है। इसके बाद रिकार्डिंग एवं जूरी मेंबर की रिपोर्ट लंदन भेजी जाएगी, जहां से करीब बीस दिन बाद आधिकारिक घोषणां होगी।

Facebook Comments