रीवा : सरकार की तानाशाही के विरोध में आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने कमिश्नरी को घेरा

रीवा

रीवा । आम आदमी पार्टी रीवा द्वारा स्टेडियम तिराहे से हजारों की संख्या में बाइक रैली निकाल कर कमिश्नर कार्यालय का घेराव किया गया, जिसमें राज्यपाल के नाम संबोधित ज्ञापन में यह कहा गया कि म0प्र0 की भाजपा सरकार पुलिस को आगें कर के किसानों, नवयुवको व महिलाओं पर बन्दूक और डण्डे के बल पर अत्याचार कर रही है, और सरकार ऐसे लोगों को संरक्षण दे रही है। म0प्र0 में बिजली के लाखों मामले किसानों के विरूद्ध दर्ज किये गये बिजली के दाम म0प्र0 की सरकार व कांग्रेस के अध्यक्ष द्वारा मिली भगत कर दर बढ़ा कर आम जन को लूट कर कांग्रेस व बी.जे.पी. मालामाल हो रही है।

वहीं बेरोजगारी, स्वास्थ्य, शिक्षा में म0प्र0 सबसे पिछड़े प्रदेशों में नम्बर-1 हो रहा है। म0प्र0 की बी.जे.पी. सरकार में 06 किसानों को मंदसौर में पुलिस द्वारा गोली मार कर हत्या कराई गई, वही कांग्रेस की दिगविजय सरकार ने 18 किसानों को गोली मार कर मूलतई में हत्या कराई थी। भाजपा और कांग्रेस दोनों छोटे-छोटे मुद्दों पर आपस मे जनता के बीच लड़ते हुये दिखाई देते हैं, जबकि बड़े भ्रष्टाचारों में भाजपा और कांग्रेस व उनके नेता भ्रष्टाचार का बटनवारा करते हैं।

आम आदमी पार्टी ने राज्यपाल से यह मांग की है कि म0प्र0 की भाजपा सरकार को बर्खास्त कर भारतीय जनता पार्टी को म0प्र0 में चुनाव लड़ने पर प्रतिबन्ध लगाया जाय। आज के आन्दोलन में आम आदमी पार्टी रीवा के शहर संयोजक राजीव सिंह परिहार (शेरा सिंह), सेमरिया विधानसभा के सेक्टर प्रभारी रवि मिश्रा, गुढ़ विधानसभा से कमलेश्वर तिवारी, विनय सिंह, प्रमोद सिंह, झुंगी-झोपड़ी प्रकोष्ठ पंकज साकेत (भीम आर्मी), अनूप सिंह, अमित सिंह, विजय सिंह, प्रशांत साकेत, राजू बंसल, कल्लो बाई बंसल, सौरभ सोनी, आकाश गुप्ता, मो0 मीनू खान, अभिमन्यु सिंह, लौवकुश सहित हजारों लोगों ने कमिश्नर कार्यालय पहुंच कर ज्ञापन सौपा।