रीवा से बस में सवार हुए युवक की कर दी गयी बेरहमी से हत्या, जानिये क्या है कारण

रीवा

सीधी में घर पहुंचने से पहले आधा दर्जन लोगों ने पीटा, मंगलवार को हुई मौत सडक़ पर शव रखकर परिजनों ने किया प्रदर्शन, पांच गिरफ्तार सीधी. मुंबई से लौट रहे एक युवक की घर पहुंचने से पहले हत्या कर दी गई। विवाद बस की सीट में बैठने के मामूली विवाद पर हुई। मौत के बाद परिजनों ने शव सडक़ पर रखकर चकाजाम कर दिया गया। सूचना पर तहसीलदार गोपद बनास विजय द्विवेदी व नगर कोतवाल ने परिजनों को समझाइश दी। उसके बाद चकाजाम समाप्त हुआ। तहसीलदार की उपस्थिति में शव का पीएम कर परिजनों को सौंप दिया गया है। सिटी कोतवाली अंतर्गत बमुरी निवासी अनुज साहू पिता राजकरण (27) मुंबई में काम करता था। सोमवार को वह घर लौट रहा था। देर रात रीवा से पुष्पराज ट्रेवल्स की बस पर सवार हुआ। तभी एक युवक से सीट को लेकर विवाद हो गया। युवक ने उसे जान से मारने की धमकी दी। और, सीधी पहुंचने से पहले जमोड़ी तिराहा के पास वाहन से पहुंचे सात लोगों ने अनुज को बस से उतारकर मारपीट की। युवक गंभीर अवस्था में जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। जहां कुछ देर बाद उसकी मौत हो गई। वारदात, सोमवार-मंगलवार की दरमियानी रात 2.30 बजे की है। जबकि, मौत मंगलवार दोपहर 2 बजे हुई।\r\n सडक़ पर आक्रोशअनुज की मौत पर ग्रामीण व मृतक के परिजन आक्रोशित हो गए। पोस्टमार्टम न कराकर शव अस्पताल तिराहे पर रखकर चकाजाम कर दिया गया। मांग थी, आरोपियों की गिरफ्तारी की जाए। दाह संस्कार के लिए आर्थिक सहायता दी जाए। तहसीलदार द्विवेदी व नगर कोतवाल रामबाबू चौधरी की समझाइश पर एक घंटे बाद आंदोलन खत्म हुआ। और, शव को पीएम का पीएम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया गया। तनाव देखकर पुलिस सतर्क रही। अस्पताल तिराहा छावनी बना रहा