रीवा: तालाब में डूबा युवक, अस्पताल प्रशासन की लापरवाही से गई जान, परिजनों का हंगामा

रीवा

रीवा। तालाब में नहाने के दौरान सोमवार सुबह लगभग 9 बजे चोरहटा थाना के बेला बैजनाथ निवासी मोनू उर्फ प्रभात मिश्रा 18 वर्ष डूब गया। उसे परिजन अस्पताल लेकर पहुंचे जहां लगभग 2 घंटे बाद युवक को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। बताया जा रहा है कि मोनू अपने साथियों के साथ बैजनाथ गांव स्थित तालाब में नहाने गया था। अन्य लोगों की जैसे ही डूब रहे नजर मोनू पर पड़ी वे शोर मचाने लगे। आसपास मौजूद लोगों ने काफी देर तक तलाश करने के बाद मोनू को पानी से बाहर निकाला लेकिन अस्पताल में उसकी मौत हो गई।

युवक की मौत के बाद उसके परिजन इस बात को लेकर आक्रोशित हो गए कि युवक का इलाज सही समय पर अगर किया जाता तो उसकी जान बचाई जा सकती थी। डॉक्टरों द्वारा लापरवाही के चलते युवक की मौत हो गई। उन्होंने बताया कि लगभग 2 घंटे तक वे अस्पताल में डॉक्टर और नर्स के बीच परेशान रहे। लेकिन युवक के इलाज को लेकर डॉक्टरों ने कोई रूचि नहीं दिखाई। परिजनों का यह भी आरोप था कि ड्यूटी में ज्यादातर जूनियर डॉक्टर मौजूद थे। जिन्होंने न सिर्फ लापरवाही की बल्कि सही इलाज न मिलने के कारण युवक की मौत हो गई। पुलिस जांच कर रही है।