रीवा: शहर में दर्जनों पुलिया टूटी हुई, राहगीर हो रहें परेशान

रीवा: शहर में दर्जनों पुलिया टूटी हुई, राहगीर हो रहें परेशान

रीवा

रीवा। बारिश आने के साथ ही नगर निगम को सुधार कार्य करने की याद आई है। पिछले एक साल से विभिन्न वार्डों के अंतर्गत दर्जनों की संख्या में क्षतिग्रस्त पुलियों को विभाग पानी बरसाने के बाद सुधारने के लिए तैयारी कर रहा है। वार्ड 16, 11 और वार्ड 10 में क्षतिग्रस्त हो चुकी पुलियों को नये निर्माण के लिए तोड़ा जा रहा है। कई जगह पर पुलिया तोड़ने के बाद कई दिन हो जाने के बाद भी पुलिया नहीं बनाई गई है। जिसके कारण कॉलोनी के सैकड़ों रहवासी परेशान हो रहे हैं।

वार्ड नं. 16 में अमरदीप मैरिज गार्डेन के पास क्षतिग्रस्त हो चुकी पुलिया को कुछ दिन पूर्व नये निर्माण के लिए तोड़ा गया था। जिसे अभी तक नहीं बनाया जा सका है। पुलिया तोड़ने के दौरान श्रमिकों की लापरवाही से पानी की पाइप भी टूट गई थी। जिससे कई घरों में पानी की सप्लाई की समस्या बनी रही। स्थानीय लोगों के मुताबिक चार दिन पहले पुलिया को तोड़ने के दौरान मौके पर मौजूद नगर निगम के अमले ने पुलिया के तुरंत निर्माण की बात कही थी लेकिन चार दिन बीत जाने के बाद भी अभी तक कोई निर्माण नहीं हो पाया है।

एक साल से क्षतिग्रस्त थी पुलिया
वार्ड नं. 16 स्थित यह पुलिया पिछले एक साल से क्षतिग्रस्त हालत में थी। पुलिया के दोनों किनारे टूट चुके थे। बीच में मात्र कुछ फिट की जगह से दुपहिया और चार पहिया वाहन निकल रहे थे। पिछले एक साल के दौरान कई लोग टूटी हुई पुलिया के कारण गिरकर घायल हो चुके हैं। स्थानीय नागरिकों ने इस पुलिया को बनाने के लिए नगर निगम को बार-बार जानकारी दी थी। लेकिन उसके बावजूद भी पुलिया निर्माण नहीं हो सका। ऐसे में बरसात के महीने में पुलिया का निर्माण अभी तक न हो पाने के कारण गंभीर हादसे की आशंका बनी रहती है।

बच्चों को हो रही स्कूल जाने में समस्या
पुलिया से होकर कॉलोनी के अंदर जाने वाले सैकड़ों लोगों को घर आने-जाने में दिक्कत हो रही है। काम पर जाने वाले लोग मोटर साइकिल नहीं निकल पा रहे हैं। इसके साथ ही स्कूल जाने के लिए छात्र रास्ता पार न कर पाने की वजह से स्कूल में पढ़ाई से वंचित हो रहे हैं। नाली के बगल में रह रहे स्थानीय नागरिक ने बताया कि पुलिया की खुदाई के दौरान अमले को पानी की सप्लाई कट जाने की बात बताई थी। लेकिन उसके बावजूद भी अमले ने लापरवाही बतरते हुए पानी सप्लाई की लाइन काट दी।

निराला नगर में डूब की कगार पर घर
निराला नगर में जरा सी बारिश होने पर डूब की कगार में घर आ जाता है। मुख्य रोड पर नव निर्माणाधीन बिल्डिंग के पीछे वकील राजनारायण पाण्डेय के घर के आसपास से पानी की निकासी नहीं होने के कारण जरा सही बारिश में घर डूबने लगता है। आसपास पड़े खाली प्लाट से पानी न निकलने के कारण ऐसी स्थिति बनती है। पिछले वर्ष हुई बारिश में भी इसी तरह की समस्या बनी थी।

सौ. स्टार समाचार, रीवा