अभय मिश्रा रीवा

रीवा जिपं अध्यक्ष अभय को गिरफ्तार करने स्टेशन पहुंचा भारी पुलिस बल, जानिए क्या है कारण…

रीवा

रीवा। शहर के गोड़हर स्थित रेलवे स्टेशन में रविवार सुबह 8 बजे भारी पुलिस बल के पहुंचने पर स्टेशन में मौजूद लोगों में हड़कंप मच गया। स्टेशन पहुंचे पुलिस कर्मी न सिर्फ रेलवे स्टेशन बल्कि ट्रेन में सर्चिंग करते रहे। चर्चा थी कि पुलिस कांग्रेस नेता और जिला पंचायत अध्यक्ष अभय मिश्रा सहित अन्य नामजद आरोपियों की तलाश करने के लिए रेलवे स्टेशन पहुंची थी। हालांकि पुलिस अधिकारियों द्वारा इस कार्रवाई को लेकर अधिकारिक रूप से कुछ भी नहीं कहा जा रहा है। लेकिन जिस तरह से पुलिस पूरे लाव लश्कर के साथ रेलवे स्टेशन में वर्दी और बिना वर्दी के पहुंची थी उससे स्पष्ट है कि पुलिस धरपकड़ करने के लिए पहुंची थी।

सेमरिया थाने में दर्ज है मामला

कांग्रेस नेता और जिला पंचायत अध्यक्ष अभय मिश्रा सहित कांग्रेस और बसपा के नेताओं के खिलाफ जिले के सेमरिया थाने में धारा 353, 294, 506बी, 127 सहित 9 धाराओं के तहत मामला दर्ज है। पुलिस को सूचना मिली थी कि रेवांचल ट्रेन से कांग्रेस नेता रीवा पहुंच रहे हैं। जिसके चलते रेलवे स्टेशन में पुलिस लगातार सर्चिंग करके उनकी तलाश करती रही। दरअसल एक सप्ताह पूर्व सेमरिया थाना के अकौनी गांव में दो आदिवासी युवकों की एक-एक करके मौत हो गई थी और युवकों की मौत के लिए पुलिसिया कार्रवाई को जिम्मेदार ठहराते हुए जिला पंचायत अध्यक्ष अभय मिश्रा सहित कांग्रेस और बसपा के नेता जहां धरने पर बैठ गए थे वहीं सेमरिया थाना प्रभारी के साथ छीना-झपटी और पुलिस से बदसलूकी किए जाने सहित मारपीट की भी खबर रही। जिसके चलते सेमरिया थाने में पुलिस ने मामला दर्ज किया था और उक्त दर्ज मामले के तहत रेलवे स्टेशन में पुलिस की दबिश को जोड़ा जा रहा है। बहरहाल रेलवे स्टेशन से पुलिस खाली हाथ लौटी है और पुलिस अब इसे अपराधियों की धर-पकड़ करने के लिए महज जांच पड़ताल की बात कह रही है।

रेलवे स्टेशन में पहुंचकर जांच पड़ताल की गई है। अपराधियों की धर-पकड़ करने के लिए पुलिस को तैनात किया गया था। देखिए पुलिस का काम है अपराधियों की धर-पकड़ करना और वह काम हम कर रहे हैं। गिरफ्तारी किसकी करनी थी इससे मतलब नहीं है। -सुशांत सक्सेना, एसपी, रीवा।