विंध्य : यहाँ बनेगा साइकिलिंग-स्केटिंग ट्रैक

रीवा

सतना। एरोड्रम के आसपास के क्षेत्र को पिकनिक स्पॉट के रूप में डेवलप करने के प्लान पर काम चल रहा है। स्मार्ट सिटी में शामिल सतना को भी महानगरों जैसा रूप देने के लिए नगर निगम ने कई प्रस्ताव तैयार किए हैं। उन प्रस्तावों में एरोड्रम की ओर जाने वाली सड़क को रंगीन बनाने के अलावा कई अन्य निर्माण व विकास कार्यों को अंजाम दिया जा रहा है। जानकारी के मुताबिक मैत्रीपार्क के सामने जहां स्केटिंग ट्रैक बनाया जा रहा है, वहीं नारायण तालाब के सामने किड जोन, साइकल ट्रैक बनाया जाएगा।

बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक सभी को कुछ न कुछ
वार्ड क्रमांक-22 व 23 को मैत्रीपार्क के पास जोड़ने वाले क्षेत्र में कई निर्माण व विकास कार्य किए जा रहे हैं, तो कई प्रस्तावित है, जिनमें बच्चों व बुजुर्गों के लिए कुछ-न-कुछ हैं। हवाई पट्टी क्षेत्र में जहां बच्चों के लिए किड जोन विकसित किया जा रहा है, वहीं बुजुर्गों के लिए भी एक मार्ग बनाया जाएगा।

बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक सभी को कुछ न कुछ
वार्ड क्रमांक-22 व 23 को मैत्रीपार्क के पास जोड़ने वाले क्षेत्र में कई निर्माण व विकास कार्य किए जा रहे हैं, तो कई प्रस्तावित है, जिनमें बच्चों व बुजुर्गों के लिए कुछ-न-कुछ हैं। हवाई पट्टी क्षेत्र में जहां बच्चों के लिए किड जोन विकसित किया जा रहा है, वहीं बुजुर्गों के लिए भी एक मार्ग बनाया जाएगा।

दुकानों के सामने होगी पीली-पट्टी 
शहर के अंदर दुकानों के सामने नगर निगम पीली पट्टी (लाइन) खीचेंगा, इस पट्टी के आगे जो भी दुकानदार अपनी दुकान सजाएगा, उस पर 1 हजार का जुर्माना किया जाएगा। यह सब अराजक हो चुकी शहर की यातायात-व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए किया जाएगा। इस कार्य की अगले 3 महीनों तक निगरानी भी की जाएगी। यहां उल्लेखनीय है कि बाजार क्षेत्र, स्टेशन रोड या फिर नेशनल हाईवे हो, हर जगह दुकानें सड़कों पर सजी हैं, जिस वजह से अक्सर जाम की स्थिति बनी रहती है। जाम के इस झाम से शहरवासियों को मुक्ति दिलाने के लिए ननि द्वारा यह कदम उठाया जा रहा है।  इस संबंध में मिली जानकारी के मुताबिक लाइनिंग मशीन 4 साल बाद नगर निगम कार्यालय से बाहर आएगी। बताया जाता है कि राजेन्द्र नगर, स्टेशन रोड, सेमरिया रोड, अस्पताल रोड व बाजार के अन्य स्थानों में दुकानदारों द्वारा सड़क में सामान रखकर व्यापार किया जा रहा हैं, जिस वजह से यातायात बाधित होता है।

 जिसको देखते हुए दुकानों के सामने पीली पट्टी खींची जाएगी, दुकानों के सामने पीली पट्टी खींचने का काम अगले सप्ताह से शुरू होगा। ननि की लाइनिंग मशीन अभी तक धूल खा रही थी, जिसे शुक्रवार को निगमायुक्त के निर्देश के बाद बाहर निकाला गया। यह मशीन लगभग 4 साल पहले खरीदी गई थी।

दो दिन के एनांउस के बाद कार्यवाही
ऐसे दुकानदार जो पीली-पट्टी के बाहर अपना सामान लगाएंगे, उन्हें 2 दिन एनाउंस करके चेतावनी दी जाएगी, इसके बाद उन पर 1 हजार का जुर्माना लगाया जाएगा। यह कार्यवाही लगभग 3 महीनों तक सतत जारी रहेगी। इसकी मानीटरिंग स्वयं नगर निगम आयुक्त व अतिक्रमण दस्ता करेगा।

इनका कहना है
शहर की अराजक यातायात व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए दुकानों के सामने पीली पट्टी खींची जाएगी, ताकि दुकानदार इसके बाहर सामान न लगा सकें, इसके बावजूद यदि सामान पीली पट्टी के बाहर लगता है, तो दुकानदार पर 1 हजार का जुर्माना किया जाएगा।
प्रवीण सिंह अढ़ायच, आयुक्त- नगर निगम