साढ़े 11 अरब की लागत से बनेंगी रीवा संभाग की 5 सड़कें

रीवा विंध्य सतना सिंगरौली सीधी

रीवा। राष्ट्रीय राजमार्ग का संभागीय कार्यालय खुल जाने के बाद संभाग की 5 सड़कों के लिए शासन द्वारा 11 अरब 39 करोड़ रुपए स्वीकृत किए गए हैं। बताया गया है कि जिन सड़कों के लिए यह राशि दी गई है, उनका निर्माण आधा अधूरा पहले भी किया जा चुका है। लिहाजा राष्ट्रीय राजमार्ग का संभागीय दफ्तर उज्जैन स्थानांतरित हो जाने के बाद इन सड़कों का पूरा निर्माण नहीं हो पाया था। ऐसे में कुछ दिन पूर्व शासन द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग का संभागीय कार्यालय खोले जाने की हरी झण्डी फिर से दी गई है।

जिन सड़कों का निर्माण कार्य अधूरा पड़ा हुआ था, उनके निर्माण कार्य के लिए राशि जारी कर दी गई है। विभागीय सूत्रों से बताया गया है कि संभाग की जिन पांच सड़कों के लिए राशि स्वीकृत की गई है, उनमें रीवा से सिरमौर एवं सतना से बेला की निविदा हो जाने के बाद कार्य भी चल रहा है। परंतु सतना-बमीठा, नागौद-सलेहा पवई एवं केन नदी के पवई बायपास तक की सड़क का टेण्डर होना अभी शेष है। बताया गया है कि जल्द ही टेण्डर की प्रक्रिया पूरी कर कार्य शुरू कर दिए जाएंगे। बताया गया है कि रीवा से सिरमौर के लिए बनने वाली 36 किलोमीटर की सड़क का निर्माण जेंको इंटरप्राइजेज लिमिटेड तथा सतना से बेला के लिए बनने वाली 47 किलोमीटर की सड़क का निर्माण श्रीजी कांस्ट्रक्शन कंपनी को दिया जा चुका है। कंपनी द्वारा कार्य भी शुरू कर दिया गया है।

इन सड़कों को मिली स्वीकृति

सड़क लम्बाई कुल स्वीकृत राशि
रीवा-सिरमौर 36.71 किलोमीटर 162.56 करोड़
सतना-बेला 47.05 किलोमीटर 428.25 करोड़
सतना-बमीठा 97.84 किलोमीटर 214.69 करोड़
केन नदी से पवई बायपास 31 किलोमीटर 143.05 करोड़

बायपास की छूटी सड़क भी एनएच को
नेशनल हाइवे स्थित बायपास से छूटी कस्बाई सड़कों को भी नेशनल हाइवे विभाग को दे दिया गया है। राष्टÑीय राजमार्ग का डिवीजन खुल जाने के बाद कस्बाई सड़कों को एक बार फिर से राष्टÑीय राजमार्ग के सुपुर्द कर दिया गया है। माना यह जा रहा है कि प्रदेश सरकार के पास बजट की कमी के चलते यह निर्णय लिया गया है। कई वर्षों से जर्जर हालत में पड़ी कस्बों के अंदर जाने वाली सड़कों का जल्द ही कायाकल्प शुरू कर दिया जाएगा। बताया गया है कि जिले के रायपुर कर्चुलियान, मनगवां, देवतालाब, मऊगंज, हनुमना एवं गुढ़ सहित सात कस्बों की सड़कों के निर्माण के प्रस्ताव को मंजूरी मिली है।

Tagged