आरक्षण के मामले में ये क्या बोल गए रीवा सांसद, ऑडियो हो रहा वायरल

मध्यप्रदेश रीवा

रीवा। भाजपा के रीवा से सांसद जनार्दन मिश्रा का एक आडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है, जिसमें वह आरक्षण को लेकर बड़ी बात कहते सुनाई दे रहे हैं। दावा किया जा रहा है कि कुछ दिन पहले वह अपने गृह क्षेत्र में भ्रमण के दौरान हिनौता गांव पहुंचे थे, जहां पर उनसे एक युवक ने बेरोजगारी और आरक्षण के मुद्दे पर सवाल पूछ लिया। इसके बाद उस युवक को समझाते हुए सांसद क्या-क्या बोल गए उन्हें भी पता नहीं चला। अब सोशल मीडिया पर उक्त आडियो किसी ने वायरल कर दिया है और दावा किया जा रहा है कि सांसद मुस्लिमों और ईसाई धर्म के लोगों पर समाज में कब्जा करने की बात कह रहे हैं।

आडियो में सांसद कह रहे हैं कि आरक्षण की व्यवस्था से समाज में विसंगति नहीं है। जिस दिन यह आरक्षण समाप्त कर दिया गया तो समाज में विकृति फैल जाएगी। गांवों के लोग मुस्लिम बन जाएंगे और उनसे अपने संबंध भी बनाने लगेंगे। इतना ही यह नहीं यह भी कहा गया है कि आरक्षण समाप्त होने पर बाहर से मुस्लिम आएंगे और लोगों को अपने धर्म में शामिल करेंगे।

राजस्थान के इतिहास का दिया हवाला
आरक्षण और बेरोजगारी पर सवाल पूछने वाले युवक को समझाइश देते हुए सांसद ने राजस्थान के इतिहास का हवाला दिया और कहा कि मुसलमानों ने जब वहां पर कब्जा करना शुरू किया तो स्वयं को बचाने के लिए वहां के क्षत्रियों ने अपनी बेटियों का रिश्ता उनसे करना शुरू कर दिया। केवल महाराणा प्रताप ही एक ऐसे योद्धा रहे जिन्होंने मुगलों के सामने झुकने के बजाय युद्ध किया। वही स्थिति आगे भी बन सकती है।

बोले हमें भी बेटी की करनी पड़ेगी शादी
आने वाले सामाजिक दबाव का उल्लेख करते हुए कहा कि स्थिति ऐसी आ जाएगी कि हमें भी मुसलमानों से संबंध बनाना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि हम सुविधाभोगी लोग हैं, अपनी संपत्ति बचाने के लिए सबसे पहले बेटियों की शादी उनसे करेंगे।

दलित-आदिवासी हो जाएंगी ईसाई
सामान्य गांवों में मुस्लिम एक तिहाई से अधिक हो जाएंगे और दलित-आदिवासियों के गांवों में तो सौ प्रतिशत लोग ईसाई हो जाएंगे। इस कारण समाज में बड़ा बदलाव हो जाएगा। उन्होंने कहा कि जो व्यवस्था चल रही है वह ठीक है, आने वाले दिन समाज के लिए घातक होंगे।

पहले भी सोशल मीडिया की सुर्खियों में रह चुके हैं
इसके पहले भी कई बार सोशल मीडिया की सुर्खियों में सांसद जनार्दन मिश्रा रह चुके हैं। कुछ महीने पहले गुढ़ के खजुहा गांव में एक स्कूल का टायलेट हाथों से साफ करते हुए उनका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। जिसे देश के प्रमुख मीडिया संस्थानों ने प्रमुखता से उसका प्रकाशन किया था। प्रधानमंत्री मोदी ने भी उन्हें स्वच्छता का ब्रांड एमबेस्डर बताया था।

सांसद ने कहा दूसरे संदर्भ में हो रहा प्रचार
आडियो वायरल होने के बाद सांसद जनार्दन मिश्रा ने सफाई भी दी है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से बातें प्रचारित की जा रही है, वह बेबुनियाद हैं। उनका कहना है कि अलग-अलग धर्मों द्वारा गांवों के लोगों को बरगलाया जा रहा है। अभी जो हक उन्हें मिल रहा है, वह मिलना बंद हुआ तो उन्हें और भ्रमित किया जा सकता है।

(सौ. पत्रिका, रीवा)