Rewa_Riyasat/marig.jpg

MP :नाइट कर्फ्यू और लॉकडाउन के बाद शादियों पर लगी रोक, एमपी के इन शहरों में नही होगे विवाह

RewaRiyasat.Com
Viresh Singh Baghel
20 Apr 2021

एमपी (MP) :  प्रदेश में बेकाबू हो रहे कोरोना की चेन तोड़ने के लिये पहले नाइट कर्फ्यू और फिर कुछ शहरों में लॉकडाउन लगाया गया। इसके बाद अब विवाह कार्यक्रम पर भी रोक लगाने के आदेश दे दिये गये है। खबरो के मुताबिक प्रदेश के इंदौर, भोपाल और दतिया में शादियों की परमिशन देने से भी मना कर दिया गया है। 

बढ़ रहे मरीज हो रही मौत

खबरों के मुताबिक एमपी के 4 बड़े शहरों में ही 24 घंटे में 5,393 नए संक्रमित सामने आए हैं और 29 लोगों की मौतें हुई हैं। कोरोना की रफ्तार के आगे सभी इंतजाम नाकाफी साबित हो रहे हैं। बेड, ऑक्सीजन और रेमडेसिविर इंजेक्शन न मिलने से मरीज दम तोड़ रहे हैं। जितने बेड बढ़ाए जा रहे हैं, उससे ज्यादा मरीज बढ़ रहे हैं। यही वजह है कि सरकार की सख्ती बढ़ रही है।

वर-वधु पक्ष चिंता में

ज्ञात हो कि एक वर्ष से ज्यादा का समय हो गया। जब कोरोना सक्रमण के चलते विवाह कार्यक्रमों में पाबंदिया लग रही है। जिसके चलते एक वर्ष से विवाह की तैयारी कर रहे दो पक्ष के लोगो में चिंता हैं कि आखिर बेटी की विदाई कैसे हो। 

अभी प्रदेश के 4 शहरों में विवाह पर रोक लगाई गई है, जबकि अन्य शहरों में संख्या सीमित की गई थी। हालात इसी तरह बने रहे तो प्रदेश के अन्य शहरों में भी विवाह पर रोक लगाई जा सकती है। ऐसे में जलसा जश्न तो दूर विवाह और विदाई भी रूक जायेगी।

बढ़ रहे मरीज

भोपाल में 1,694 नए संक्रमित मिले हैं। सरकारी आंकड़ों में सिर्फ 4 मौतें बताई गई हैं, जबकि अकेले पीपुल्स अस्पताल में ही 10 मरीजों की मौत हुई है। 

इंदौर में कोरोना हर दिन नए रिकॉर्ड बना रहा है। 24 घंटे में यहां 1,753 नए केस आए, जबकि 8 लोगों की मौत हो गई। एक दिन में नए संक्रमित आने का यह सबसे बड़ा आंकड़ा है। यहां संक्रमण बढ़ने के साथ ही पाबंदियां भी बढ़ती जा रही हैं। कलेक्टर मनीष सिंह ने साफ कर दिया है कि 30 अप्रैल तक यहां पर कोरोना कर्फ्यू रहेगा। शादियों की परमिशन देने से भी मना कर दिया गया है। 

ग्वालियर में सोमवार को 3,210 लोगों के सैंपल की रिपोर्ट आई, इनमें से 1,072 संक्रमित निकले हैं। 11 मरीजों की मौत भी हुई है। 

जबलपुर में बीते 24 घंटे में 3,122 सैंपल में से 874 संक्रमित मिले हैं। वहीं 483 मरीज ठीक भी हुए हैं। सरकारी आंकड़ों में 6 मौतें बताई गई हैं, जबकि दो मुक्तिधामों और दो कब्रिस्तानों में 74 शव पहुंचे हैं। 

SIGN UP FOR A NEWSLETTER