NEWS/NAWJAD_KO_CORONA.jpg

MP: बच्चो पर ज्यादा असर करने वाली कोरोना की तीसरी लहर के लिए, प्रदेश सरकार ने उठाये यह महत्वपूर्ण कदम

RewaRiyasat.Com
Suyash Dubey
03 Jun 2021

भोपाल / Bhopal: कोरोना महामारी की तीसरी लहर का मुकाबला करने की तैयारी मध्यप्रदेश सरकार ने शुरू कर दी है। विशेष्यज्ञों का दवा है की कोरोना की तीसरी लहर बच्चो के लिए ज्यादा खतरनाक हो सकती है। इसका प्रमाण देखने को मिलने लगा है।

महाराष्ट्र में हजारो बच्चे कोरोना की चपेट में आ रहे हैं। ऐसे में मध्यप्रदेश सरकार ने उत्तरप्रदेश सरकार की तरह जिन बच्चो की उम्र 12 वर्ष से कम है उन बच्चों के माता-पिता को टीकाकरण में प्राथमिकता दी जाने की बात कही है। 

CM Shivraj Singh ने गुरुवार को कहा है कि कोरोना की दूसरी लहर पर नियंत्रण प्राप्त कर लिया है। उन्होंने कहा की तीसरी लहर की आशंका जताई जा रही है। तीसरी लहर का मुकाबला करने की तैयारी प्रारंभ कर दी गई है।

इस आशंका को देखते हुए स्वास्थ्य सेवाओं का सुद्धढ़ीकरण करने का फैसला लिया गया है। अलग-अलग स्तर पर बच्चों के विशेष वार्ड बनाने का फैसला लिया गया है। 

यह भी फैसला लिया गया है कि जिन माता-पिता के बच्चों की उम्र 12 वर्ष से कम है, उन बच्चों के माता-पिता को टीकाकरण में प्राथमिकता दी जायेगी। उनका टीकाकरण बहुत आवश्यक है।

क्योंकि किसी बच्चे को यदि संक्रमण हुआ तो बच्चे के साथ माता या पिता का रहना आवश्यक होगा। माता-पिता का टीकाकरण हो जायेगा तो वे बच्चों की देख-भाल करते रहेंगे।

मुख्यमंत्री ने मीडिया से बात करते हुए यह भी कहा मध्यप्रदेश के कई बेटे- बेटियाँ शिक्षा प्राप्त करने के लिए विदेश जाना चाहते हैं। अत: यह फैसला भी लिया गया है कि जिन बच्चों को शिक्षा प्राप्त करने के लिए विदेश जाना है, उनका प्राथमिकता के आधार पर टीकाकरण किया जायगा, जिससे वे सुरक्षित विदेश जा सकें और शिक्षा प्राप्त कर सकें।

Comments

Be the first to comment

Add Comment
Full Name
Email
Textarea
SIGN UP FOR A NEWSLETTER