2021/04/covid-dead-body-coronavirus1.jpg

मध्य प्रदेश / कोरोना ने ख़त्म कर दिया हंसता-खेलता पूरा परिवार, बचा सिर्फ गार्ड, जो अब भी सूने घर की सुरक्षा कर रहा...

RewaRiyasat.Com
रीवा रियासत डिजिटल
24 Apr 2021

कोरोना कितना खतरनाक है यह तो आप देख ही रहें होंगे. एक ही झटके में कोरोना ने दुनियाभर के कई परिवारों को उजाड़ दिया. इसी तरह मध्य प्रदेश के उज्जैन (Ujjain) जिले में भी एक हंसता-खेलता परिवार कोरोना ने उजाड़ दिया, पूरा घर सूना कर दिया. अब बचा है तो सिर्फ घर के बाहर घर की देखभाल करने वाला गार्ड (Security Guard), जो उस परिवार के उजड़ जाने के बाद भी घर की तकवाही कर रहा है. 

मामला उज्जैन जिले का है. यहाँ एक जैन परिवार कोरोना की चपेट में आ गया और एक एक करके परिवार के पूरे सदस्य कोरोना से जंग हारते गए. महज 15 दिनों के अंदर संतोष कुमार जैन का पूरा परिवार दिवंगत हो गया. 

पिता की हुई थी कोरोना संक्रमण से मौत 

उज्जैन के आदर्श विक्रम नगर में रहने वाले संतोष कुमार जैन के पिता का देहांत देवास जिले में कोरोना संक्रमण के चलते हुआ था. वे परिवार सहित देवास गए हुए थें. वापस लौटें तो 8 अप्रैल को उनकी पत्नी मंजुला जैन की तबियत अचानक खराब हो गई. कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई. इससे पहले की उनका इलाज शुरू होता, 10 अप्रैल को उन्होंने दम तोड़ दिया. 

भ्रष्ट तंत्र के सामने पिता और बेटी ने भी टेके घुटने 

इसके बाद संतोष और उनकी बेटी आयुषी ने भी अपना सैंपल जांच के लिए दिया. दोनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई. इलाज के लिए सब कुछ दांव में लगा दिया. लेकिन दवाओं की किल्लत और कालाबाजारी के चलते उन्हें पर्याप्त इलाज नहीं मिल पाया. लिहाजा 16 अप्रैल को सुभाष एवं 19 अप्रैल को आयुषी ने कोरोना और भ्रष्ट तंत्र के सामने घुटने टेक दिए. 

अब भी घर की तकवाही कर रहा गार्ड 

इस हसते खेलते घर की रौनक चली गई, पूरा परिवार ख़त्म हो गया. बचा तो सिर्फ एक गार्ड, जो घर के बाहर एक कुर्सी लगाकर घर की तकवाही करता है. मालिक नहीं रहें इसका उसे पता भी है, लेकिन इसके बावजूद भी वह उसी तरह घर की तकवाही कर रहा है. 

coronavirus dead body

SIGN UP FOR A NEWSLETTER