फेरी के दौरान रेकी व चोरी करने वाली 11 महिलाओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार, लाखों का माल बरामद

फेरी के दौरान रेकी व चोरी करने वाली 11 महिलाओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार, लाखों का माल बरामद

भोपाल मध्यप्रदेश

फेरी के दौरान रेकी व चोरी करने वाली 11 महिलाओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार, लाखों का माल बरामद

इंदौर। इंदौर के एमआईजी थाना ने 11 महिलाओं को गिरफ्तार किया हैं। इन महिलाओं पर आरोप है कि ये महिलाएं फेरी का काम करने के दौरान दुकानों की रेकी करती थी और मौका देखते ही चोरी कर वहां से नौ दो ग्यारह हो जाती थी।

इस संबंध में एमआईजी थाना की पुलिस ने बताया कि बीते दिनों थाना क्षेत्र में कई बड़ी चोरी की घटनाओं की शिकायत लगातार सामने आ रही थी। लिहाजा पुलिस ने इस पर शिकंजा कसने एक रणनीति बनाई। और फेरी का काम करने वाली महिलाओं पर निगरानी रखा जाने लगा।

कैलाश विजय वर्गीय ने साधा कमलनाथ पर निशाना: कहा उन्हें इस उम्र में भी नींद नहीं आ रही है इसलिए वह खुली आंख से देख रहे सपना

निगरानी के दौरान पता चला कि फेरी का काम करने वाली महिलाएं ही चोरी जैसी घटना को अंजाम देती हैं। पुलिस ने एक्शन दिखाते हुए इन महिलाओं को अपनी हिरासत में लिया। जब इनसे चोरी मामले में पूछताछ की गई तो पहले तो यह महिलाएं इस तरह के आरोपों से मुकरती रही, लेकिन जब पुलिस ने सख्ती दिखाई तो उन्होंने अपना गुनाह कबूल लिया।

4 लाख का माल बरामद

पुलिस ने बताया कि ये मलिाएं फेरी का काम करती थी और मौका देखते ही दुकानों में हाथ साफ करने से पीछे नहीं रहती थी। इन्हें दुकानों से जो भी सामान मिलता था वह उसे वहां से लेकर निकल जाती थी।

रीवा की नईगढ़ी में नरसिंहपुर जैसी घटना, युवती का बलात्कार कर वॉटरफॉल में फेका…

पुलिस ने बताया कि इन महिलाओं के पास से लगभग चोरी का साढ़े 4 लाख रूपए का माल बरामद किया गया है। जिसमें कैमरा सहित कई इलेक्ट्रानिक, घरेलू, डेली यूज, बर्तन आदि तरह के सामान बरामद किए गए हैं।

पुलिस का कहना है कि चोरी मामले में पकड़ी गई महिलाओं से पूरी जानकारी ली जा रही है कि इन महिलाओं कहा-कहां इस तरह की घटनाओं को अंजाम दिया है।

एमपी : भोले-भाले लोगो को अब बेबकूफ नही बना पाएगी चिटफंड कम्पनियां, जानिए कैसे

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

Facebook WhatsApp Instagram Twitter Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *